दफ्तर में गैरमौजूद रहने वालों को देना होगा स्पष्टीकरण, दिल्ली सरकार का सख्त आदेश

नई दिल्ली:  दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने लॉकडाउन के चौथे चरण में सरकारी कार्यलयों को पूरी क्षमता के साथ खोलने का आदेश दे दिया है। इसके साथ ही अब जो भी कर्मचारी दो दिन तक दफ्तर में गैरमौजूद रहेगा उसको अपनी अनुपस्थिति का लिखित में स्पष्टिकरण देना होगा। दिल्ली सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने तमाम कर्मचारियों के लिए ये आदेश जारी कर दिया है।

सभी कर्मचारियों को अब दफ्तर आना होगा। सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश देते हुए कहा है कि ब्रांच का इंचार्ज दैनिक उपस्थिति का रजिस्टर तैयार करवाए। प्रत्येक शुक्रवार को कर्मचारियों की मौजूदगी का साप्ताहिक रिकॉर्ड उप सचिव को देना होगा। उप सचिव ये रिकॉर्ड सचिव तक पहुंचाएगा। दो दिन तक गैरमौजूद रहने वाले कर्मचारी को अपनी गैरमौजूदगी को लेकर लिखित स्पष्टिकरण देना होगा। इससे उसके अनुपस्थित होने की वजह सरकार को पता लग सकेगा। साथ ही सरकार, केंद्र द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन करवाना भी सुनिश्चित कर सकेगी।

वहीं दिल्ली नगर निगम के 31 टीचर्स को फोन स्विच ऑफ कर विभाग और विद्यार्थियों के संपर्क में न रहने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। आदेश थे कि शिक्षक घर से ही काम करेंगे और हमेशा विभाग और विद्यार्थियों के संपर्क में रहेंगे। जरुरत होने पर उन्हें दफ्तर भी बुलाया जाएगा। किन्तु जब इन शिक्षकों से संपर्क किया गया तो इनका फोन ऑफ आया, जिसके बाद विभाग की तरफ से नोटिस जारी कर स्पष्टिकरण मांगा गया है।

प्रवासी मजदूरों के लिए महिला पुलिस अधिकारी ने किया ऐसा काम

क्या हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के उपयोग पर मिलने वाली है नई सलाह ?

आम्रपाली दुबे का बोल्ड अवतार आया सामने, यहां देखे ​फोटो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -