लॉकडाउन में 5000 रुपए की आर्थिक मदद दे रही सरकार, 15 मई से इस राज्य में शुरू होगा रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली: देशव्यापी लॉकडाउन के बीच केंद्र और राज्य सरकार स्थानीय आवाम को आर्थिक सहायता देने की विभिन्न योजना चला रही हैं. ऐसे में इन खबरों पर बारीकी से निगाह रखना और वक़्त रहते आर्थिक मदद के लिए सही जगह आवेदन करना ही समझदारी है. ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि आपको कैसे मिल सकते हैं 5000 रुपये.

लॉकडाउन के बीच विभिन्न राज्य अपने स्थानीय निवासियों को राशन और आर्थिक सहायता दे रहे है. ऐसे में दिल्ली सरकार ने भी अपने स्थानीय नौकरी और मजदूरी करने वाले विभिन्न वर्गों को 5000 रुपये देने की घोषणा की है. ज़ीबिज़ डॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली सरकार की तरफ से मिली जानकारी दी गई है कि राजधानी में रहने वाले बढ़ई, ग्राइंडर वर्कर, कंस्ट्रक्शन साइट पर तैनात चौकीदार, कंक्रीट मिक्सचर वाले, क्रेन ऑपरेटर, इलेक्ट्रिशियन, फिटरमैन, लोहार, पंप ऑपरेटर, राजमिस्त्री, टाइल्स स्टोन फीटर, वेल्डर, कूली, बेलदार और मजूदरों को नई स्कीम के तहत आर्थिक मदद उपलब्ध कराई जाएगी.

सरकार वेबसाइट की एक लिंक जारी करेगी. मजदुर खुद या फिर किसी अन्य व्यक्ति की सहायता से ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं. इसके लिए आवश्यक कागजात की फोटो कॉपी अपलोड करनी होगी. यह पंजीकरण 15 से 25 मई तक चलेगा. उसके बाद जितने लोगों का फॉर्म आ जाएगा, उनका 25 मई के बाद वेरिफिकेशन होगा. एक बार प्रक्रिया पूरी होने के बाद बैंक खाते में पैसा डाल दिया जाएगा.

कोरोना की सबसे असरकारक दवा का भारत में ट्रायल शुरू

लॉकडाउन खुलने के बाद पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में लग सकती है आग

मोदी सरकार ने करोड़ों लोगों को दी खुशखबरी, राशन कार्ड को अपडेट कराने की समय सीमा बढ़ी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -