दिल्ली अग्नि कांड: 43 मौत का कौन है जिम्मेदार, कांग्रेस और बीजेपी के बीच छिड़ा विवाद

दिल्ली अग्नि कांड: 43 मौत का कौन है जिम्मेदार, कांग्रेस और बीजेपी के बीच छिड़ा विवाद

नई दिल्ली: हाल ही में दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में रविवार सुबह लगी आग में 43 लोगों की मौत से भले ही पूरा देश स्तब्ध है. लेकिन राजनीतिक दल इस मसले पर भी एक-दूसरे पर आरोप लगाने में जुटे हैं. जंहा कांग्रेस और बीजेपी ने इस हादसे के लिए आम आदमी पार्टी को जिम्मेदार ठहराया है, जबकि 'आप' ने इसके लिए नगर निगम को जिम्मेदार ठहराया है. बता दें कि नगर निगम पर बीजेपी का कब्जा है.

सूत्रों का कहना है कि दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी घटनास्थल पर पहुंचे. तिवारी ने कहा कि क्षेत्र में बिजली की तार लटक रही है लेकिन कई शिकायतों के बाद भी सरकारी एजेंसियों ने कोई कार्रवाई नहीं की. कांग्रेस ने इस घटना के लिए आम आदमी पार्टी सरकार और बीजेपी के नेतृत्व वाले नगर निगमों को जिम्मेदार ठहराया है. वहीं दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने कहा, ‘केजरीवाल सरकार इसके लिए जिम्मेदार है. नगर निगम भी बीजेपी के तहत आते हैं. वे भी इसके लिए उतने ही जिम्मेदार हैं.’ तिवारी ने बीजेपी की ओर से पीड़ितों के परिवारों के लिए पांच-पांच लाख रुपये और घायलों को इलाज के लिए 25-25 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की.

मालिक हुआ फरार: सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हम आपको बता दें कि यह शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण है कि बीजेपी इस दुखद कांड पर राजनीति कर रही है. उन्होंने कहा कि यदि सवाल ही उठाने हैं तो फिर बीजेपी द्वारा संचालित एमसीडी को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए, जिसने इस फैक्ट्री को लाइसेंस देने का काम किया.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा- 'मरीजों के प्रति डॉक्टर बने संवेदनशील'...

प्रियंका गाँधी वाड्रा ने कहा- 'यूपी सरकार है किसान विरोधी'...

Prakash Singh Badal's birthday: लगातार 5 बार बन चुकें है सीएम, आजादी से अब तक राजनीति में हैं पूरी तरह सक्रिय