दिल्ली चुनाव :आतंकी घुसपैठ की आशंका के चलते बढ़ाई बॉर्डर पर निगरानी

नोएडा: दिल्ली चुनाव को लेकर घमासान युद्धा मचा हुआ हैं यदि बात की जाये तो सुरक्षा को लेकर सरकार ने इस विधान सभा चुनाव में किसी तरह की रूकावट न पहुंचे इसलिए भारत सरकार भरपुर प्रयास कर रही हैं और सुरक्षा पर किसी भी हमाल न हो इस लिए बॉर्डर पर भी लगातार निगरानी रखी जा रही हैं. सरकार ने हर तरफ कड़ी निगरानी रख रही हैं ताकि किसी अप्रिय घटना को होने से रोका जा सके इसलिए दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को होने जा रहे मतदान के दिन राजधानी से सटी सीमाओं पर कड़ी निगरानी पड़ा दी हैं.

इस बीच दिल्ली जाने वाले वाहनों की कड़ी चेकिंग के पश्चात् ही जाने दिया जा रहा हैं. नोएडा व दिल्ली पुलिस में इस दौरान बेहतर तालमेल के लिए अधिकारियों की बैठक भी बुलवाई थी. जिससे इस पूरे चुनाव माहौल के बीच किसी भी प्रकार की रूकावट न पहुंचे. नोएडा पुलिस की और से डीसीपी संकल्प शर्मा सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी कर रहे हैं.

नोएडा की सीमा दिल्ली के दो जिलों साउथ ईस्ट और ईस्ट दिल्ली से बड़ा दी गई हैं वही 8 बॉर्डर पॉइंट हैं, जो की दोनों जिलों में हैं. जिसमें कालिंदी कुंज मार्ग पर ओखला बैराज और डीएनडी साउथ ईस्ट जिले के बॉर्डर हैं. कालिंदी कुंज मार्ग पहले से ही बंद किया जा चुका है और दूसरे ईस्ट दिल्ली में सेक्टर-15ए नोएडा गेट, न्यू अशोक नगर में दो जगह, वसुंधरा एनक्लेव, झुंडपुरा और हरिदर्शन बॉर्डर हैं. डीसीपी संकल्प शर्मा ने कहा कि इन सभी बॉर्डर पॉइंट के बारे में जानकारी ली गई है और इसी के साथ ही दोनों जिलों के पुलिस अधिकारियों से भी बातचीत भी की गई है. और मतदान के दिन बॉर्डर सील करके चेकिंग के पश्चात ही वाहनों को जाने दिया जाएगा. इस बीच संदिग्ध लोगों पर कड़ी नजर भी रखी जाएगी. मतदान शुरू होने से 48 घंटे पहले बॉर्डर पॉइंट पर चौकसी को कड़ा कर दिया जायेगा और इस के साथ ही उन जगहों पर भी नजर रखी जाएगी, जहां लोग के पैदल आते जाते हैं.

CAA : गृह मंत्रालय ने लोकसभा में दिया लिखित जवाब, चिठ्ठी खुली और सामने आया बड़ा खुलासा

ऑरेंज ड्रेस में बहुत खूबसूरत नजर आईं हिना खान, देखिए तस्वीरें

राम मंदिर : ट्रस्ट गठन का प्रस्ताव लोकसभा में पारित, शिवसेना बोली क्रेडिट सबको जाता है

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -