छठ पूजा को लेकर दिल्ली में हुआ ये बड़ा ऐलान

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के मद्देनजर दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा आयोजित करने पर पाबंदी लगाई लगा दी गई है। डीडीएमए ने इससे जुड़ा औपचारिक आदेश जारी किया है। आदेश में सार्वजनिक जगहों, ग्राउंड, मंदिर तथा घाटों पर छठ पूजा आयोजित करने पर प्रतिबंध लगाया गया है। जनता से घरों में ही पूजा करने का आग्रह किया गया है। इसके साथ ही त्यौहारी सीज़न में मेले, फ़ूड स्टाल, झूला, रैली, जूलूस आदि की मंजूरी नहीं होगी। DDMA का ये आदेश 15 नवंबर तक लागू रहेगा।

वही दिवाली के छह दिन पश्चात् से छठ पूजा आरम्भ हो जाती है। इस बार छठ पूजा 8 नवंबर से आरम्भ होगी। छठ पूजा 4 दिनों तक चलती है। DDMA ने केवल छठ नहीं बल्कि नवंबर तक आने वाले सभी पर्वो के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। छठ पूजा के लिए आदेश में बताया गया है कि सार्वजनिक जगहों, पब्लिक ग्राउंड, नदी के किनारों तथा मंदिर में छठ पूजा का आयोजन नहीं किया जा सकेगा। इसी के साथ जनता से घरों में ही छठ पूजा करने को बोला गया है।

बता दे कि अभी कोरोना का प्रकोप ख़त्म नहीं हुआ है लगातार देशभर से कई संक्रमित मामले सामने आ रहे है इसी को देखते हुए ये फैसला लिया गया है। अभी देश में रोज कई लोग कोरोना की वजह से जान गँवा रहे है इसलिए जरुरी है कि हम अपनी सुरक्षा स्वयं करे तथा कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करे। क्योकि जरा सी चूक बड़ा खतरा खड़ा कर सकती है, इसलिए जरुरी है हम अनिवार्य रूप से फेस मास्क का उपयोग करे ओर सामाजिक दुरी का पालन करे।  

 

इंडियन एयरफोर्स के नए चीफ बने विवेक राम चौधरी, रिटायर हुए आरकेएस भदौरिया

किसान आंदोलन को लेकर सख्त हुई सुप्रीम कोर्ट, राजमार्ग अवरुद्ध करने को लेकर कही बड़ी बात

सेवानिवृत्त, मृत पुलिसकर्मियों की समस्या का समाधान जरूर होगा: गुंटूर एसपी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -