जमातियों के बैंक अकाउंट से हुआ बड़ा खुलासा, विदेशों से आता था बेशुमार पैसा

नई दिल्ली: दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीग़ी जमात के मुखिया मौलाना साद और उसके बेटों समेत मरकज के 11 बैंक अकाउंट सहित 125 संदिग्ध बैंक अकाउंट क्राइम ब्रांच की जांच के दायरे में आ गए हैं. जांच के दौरान एजेंसियों को पता चला कि ये वो जमाती हैं, जिनके बैंक खातों में जनवरी से मार्च के महीने में बेशुमार पैसा आया था.

बाद में ये पैसा दूसरे बैंक खाते में ट्रांसफर हो गया. अपराध शाखा ने ऐसे ही 125 बैंक अकाउंट की सूची बनाई है. जिसमें कुछ विदेशों से आए जमाती भी हैं. लगभग 2041 जमाती मरकज से जुड़े हुए हैं. क्राइम ब्रांच को संदेह है कि इतने अधिक बैंक अकाउंट के जरिए विदेशों से मिलने वाली विदेशी करेंसी को हवाला के माध्यम से भारतीय करेंसी में बदलकर छोटी-छोटी रकम के रूप में डाल दी जाती होगी, ताकि बैंक की गाइडलाइंस के अनुसार किसी को कोई शक भी नहीं होगा.

उसके बाद उन पैसों को कहीं दूसरे खातों में ट्रांसफर कर दिया जाता है. क्राइम ब्रांच अब इन 125 अकाउंट होल्डर की शिनाख्त करने में जुटी है. क्राइम ब्रांच को अभी तक अपनी पड़ताल में पता चला है कि सबसे अधिक पैसे सऊदी अरब और मिडल ईस्ट के देशों से मरकज को हवाला के माध्यम से मिलता था.

ग्रीन और ऑरेंज जोन में मिली आने-जाने की छूट, पेट्रोल-डीजल के दाम जानना हुआ जरुरी

लॉकडाउन : इस जोन में आसानी से करवा पाएंगे हेयर कट

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का बड़ा बयान, वैक्‍सीन आने तक करना होगा यह काम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -