दहेज़ में 10 लाख नहीं दे पाई पत्नी, तो ससुराल वाले करते थे टॉर्चर, युवती ने उठाया खौफनाक कदम

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के गोविंदपुरी में रहने वाले 28 साल के आरती गुप्ता ने पति और ससुरालवालों के अत्याचार से परेशान होकर 25 सितंबर को सुसाइड कर लिया। आत्महत्या से पहले उसने अपना वीडियो बनाकर अपने पति और ससुराल वालों के अत्याचार के बारे में जानकारी दी। बता दें कि पुलिस ने इस केस में कार्रवाई करते हुए आरोपित अनुपम गुप्ता को हिरासत में ले कर जेल भेज दिया है। हालांकि इस पूरे मामले पर DCP ईशा पांडे ने कुछ भी बताने से मना कर दिया।

पीड़ित परिवार के मुताबिक, 28 साल की आरती गुप्ता अपने पति अनुपम गुप्ता (32) के साथ गोविंदपुरी में 32 डी पाकेट 14 A हिमगिरी अपटामेंट में रह रही थी। वह मूल रूप से मानिक चौक अलीगढ़ उत्तर प्रदेश की रहने वाली थी। उसके पिता का नाम गिरीश चंद है। माता-पिता ने उसका विवाह 23 जनवरी 2022 को रजपुरा (बबराला) निवासी अनुपम गुप्ता पुत्र भगवान दास से की थी। खबरों का कहना है कि आरती के मामा योगेश्वर ने कहा है कि शादी के कुछ दिन बाद से ही उनके पूरे परिवार ने आरती को परेशान करना भी शुरू किया। दहेज को लेकर मारपीट करना, ताना मारना शुरू कर दिया। उसकी सास गोमती देवी, जेठ मनोज गुप्ता, जेठानी पिंकी गुप्ता और उसकी 5 ननद और पति अनुपम गुप्ता दिन रात अत्याचार किया करते थे।

कम दहेज लाने और 10 लाख रुपए लाने के लिए बोला करते थे। उसका पति भी उसे दिल्ली घर पर खाने पीने के लिए कुछ नहीं देता था। फिर शराब पीकर मार पीट भी किया करता था । यही नहीं वह अपनी ही पत्नी का गंदे वीडियो बनाकर पोर्न साईट पर डालने की धमकी भी दिया करता था। 24 सितंबर रात को भी आरती को उसके पति ने दहेज के लिए मारा-पीटा था और उसे अकेला छोड़कर चल दिया। पति और ससुराल वालों के मारपीट व अत्याचार से परेशान होकर उसने खुदकुशी से पहले वीडियो बनाया और आपबीती बता सुसाइड कर लिया। इतना ही नहीं 25 सितंबर की सुबह उसका शव पंखे से लटका हुआ पाया। आरती का पति अनुमप हौजखास स्थित एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में कार्य करता है। वहीं, पुलिस से भी सहायता मांगने के लिए आरती पहुंची थी, लेकिन उसकी कोई सहायता नहीं नहीं की गई।

घर से गोबर लेने निकली थी नाबालिग हो तभी बंद स्कूल में ले गया युवक और फिर...

चाय पीने गया था युवक, तभी आए दो अपराधी और फिर...

अमेठी: प्रतिबंधित मांस के साथ 3 आरोपी गिरफ्तार, यूपी पुलिस ने भेजा जेल

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -