101 सैन्य उत्पादों के इम्पोर्ट पर सरकार ने लगाया बैन, अब देश में होगा उत्पादन

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने देश में रक्षा संबंधी निर्माण को प्रोत्साहित करने के लिए 101 सामग्रियों के इम्पोर्ट पर रोक लगाने का फैसला लिया है। केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को इसकी घोषणा की है। 2020 से 2024 के बीच इन सामानों का देश में उत्पादन के साथ इम्पोर्ट को बैन करने की योजना है। केंद्र सरकार के इस महत्वाकांक्षी कदम से इम्पोर्ट से निर्भरता घटेगी और देश में रक्षा उत्पादों का प्रोडक्शन बढ़ेगा, जिससे रोजगार के नए रास्ते भी खुलेंगे।

केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि रक्षा मंत्रालय आत्मनिर्भर भारत पहल को बढ़ावा देने के लिए अब बड़े कदम उठाने को तैयार है। 101 रक्षा सामग्रियों के आयात पर बैन के फैसले से भारतीय रक्षा उद्योग को बड़े अवसर प्राप्त होंगे। आयात प्रतिबंधों के लिए चिह्नित की गई 101 वस्तुओं की सूची में तोप, असॉल्ट राइफल, परिवहन विमान को शामिल किया गया है। राजनाथ सिंह ने बताया कि तीनों सेनाओं ने 260 योजनाओं के तहत इन सामानों का अप्रैल 2015 से अगस्त 2020 के बीच 3.5 लाख करोड़ रुपए का ठेका दिया। अनुमान है कि अगले 6-7 वर्षों में घरेलू उद्योग को लगभग 4 लाख करोड़ रुपए के ठेके प्राप्त होंगे।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जानकारी देते हुए बताया है कि आयात पर प्रतिबंध के लिए चिह्नित सैन्य वस्तुओं के घरेलू स्तर पर उत्पादन की समयसीमा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। इम्पोर्ट पर बैन के लिए और भी रक्षा उपकरणों को चरणबद्ध तरीके से चिह्नित किया जाएगा। 

Zomato का बड़ा ऐलान, महिला और ट्रांसजेंडर कर्मचारियों को देगा 'पीरियड' लीव

स्वतन्त्रता दिवस : नारों ने भी दिलाई हिन्दुस्तान को आजादी, ये हैं कुछ प्रसिद्ध नारे

सोने से 5 गुना तेज़ भाग रही चांदी, पिछले 5 दिनों में 10 हज़ार रुपए महंगी हुई

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -