+

वित्तमंत्री सीतारमण ने ली बैंक अधिकारियों की बैठक, कहा- बैंकों के पास नकदी की कमी नहीं

वित्तमंत्री सीतारमण ने ली बैंक अधिकारियों की बैठक, कहा- बैंकों के पास नकदी की कमी नहीं

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आज सोमवार को सार्वजनिक बैंकों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (CMC) के साथ अहम मीटिंग की है। सीतारमण ने बैठक के बाद कहा कि बैंकों के पास पर्याप्त नकदी मौजूद है और चीजें सही चल रही हैं। अर्थव्यवस्था में सुस्ती के संकेतों के बीच वित्तमंत्री ने कहा कि, हमने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (MSME) उद्योगों को पैसे की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए बैंकों से MSME के लिए बिल डिस्काउंटिंग सुविधा मुहैया करवाने के लिए कहा है।

सीतारमण ने कहा कि, बड़ी कंपनियों की रिटर्न फाइलिंग के अनुसार, उन पर MSME सेक्टर के 40 हजार करोड़ रुपए शेष हैं। दिवाली से पहले MSME का भुगतान हो जाए, इसके लिए हरसंभव कोशिश की जाएगी। यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया जा रहा है कि MSME का बड़ी कंपनियों पर बकाया भुगतान जारी हो सके। एक महीने से भी कम वक़्त में सार्वजनिक बैंकों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ सीतारमण की यह दूसरी मीटिंग है।

वित्त मंत्रालय ने सोमवार को बताया है कि सरकारी बैंकों ने एक अक्टूबर से 9 अक्टूबर तक लोन मेले के दौरान 81,781 करोड़ रुपए का लोन दिया है। वित्त सचिव राजीव कुमार के अनुसार, इसमें से 34,342 करोड़ की रकम के नए लोन थे। वहीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को इंडिया एनर्जी फोरम के सेरावीक सम्मेलन में कहा कि निवेश के माहौल के अनुकूल बनाया जाएगा।

राजस्थान: कांग्रेस विधायक ने अपने ही मंत्री पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, दिया इस्तीफा

संजय निरुपम ने आखिर किसको कहा 'निकम्मा', एक ट्वीट से कांग्रेस में आया भूचाल

JNU से पढाई करने वाले अभिजीत बनर्जी सहित 3 को मिला अर्थशास्त्र का नोबल पुरस्कार