सामने आया इच्छा मृत्यु का पहला मामला

बोगोटा : विश्वभर में कई बार इच्छा मृत्यु की मांग की जाती रही है। कई बार लोगों द्वारा गंभीर बीमारी से ग्रसीत लोगों के लिए इच्छा मृत्यु की बातें की जाती रही हैं। यही नहीं देश में भी कई ऐसे मौके आते हैं जब लोगों द्वारा इच्छा मृत्यु की चाह रखी जाती हैं हाल ही में ऐसा ही एक मामला लैटिन अमेरिका के कोलंबिया में सामने आया। इस दौरान कहा जा रहा है कि बुजुर्ग को इच्छामृत्यु दे दी गई। बताया जा रहा है कि ओविडियो गोंसालिस को बीते कई वर्षों से मुख कैंसर था। वे इस बीमारी से बहुत पीडि़त थे। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बीमारी के अंतिम चरणों में पहंच जाने के दौरान उन्हें इच्छा मृत्यु दे दिए जाने पर मुहर लगा दी गई। हालांकि यह इस तरह की पहली मौत है।

चिकित्सालय में उन्हें मौत का इंजेक्शन लगाया गया। मिली जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा इच्छामृत्यु को लेकर कई तरह के निर्णय दिए गए। मामले में 17 वर्ष पूर्व संवैधानिक न्यायालय द्वारा इस संबंध में निर्णय लेते हुए इसे मान्यता दे दी गई। हालांकि संसद द्वारा इस मामले में कोई निर्णय नहीं लिया गया। मगर यहां इसके बाद भी कुछ चिकित्सक इच्छा मृत्यु को अंजाम देते रहे हैं।

मामले को लेकर कहा गया कि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा चिकित्सालयों और बीमा कंपनियों को निर्देश जारी कर दिए गए। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बीमारी के अंतिम चरण में मृत्यु देने के निर्णय को काफी अहम माना जा रहा है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -