बोफोर्स घोटाले से लेकर 1984 के सिख दंगो तक, कई विवादों के जुड़ा है इस राजनेता का नाम

May 21 2019 12:00 AM
बोफोर्स घोटाले से लेकर 1984 के सिख दंगो तक, कई विवादों के जुड़ा है इस राजनेता का नाम

20 अगस्त, 1944 को जन्मे राजीव गांधी भारत के छठे प्रधान मंत्री थे। उनके पिता फ़िरोज़ गांधी और माता इंदिरा गांधी थी। राजीव गांधी का विवाह एन्टोनिया माईनो से हुआ जो उस वक़्त इटली की नागरिक थी। विवाहोपरान्त उनकी पत्नी ने नाम बदलकर सोनिया गांधी रख लिया। कहा जाता है कि राजीव गांधी से उनकी पहली मुलाकात तब हुई जब राजीव कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में पढने गए थे। उनकी शादी 1968 में हुई जिसके बाद सोनिया भारत में ही रहने लगी। राजीव व सोनिया की दो बच्चे हैं, पुत्र राहुल गांधी और पुत्री प्रियंका गांधी।

राजीव गांधी की सियासत में कोई रूचि नहीं थी और वो एक एयरलाइन में पाइलट थे। आपातकाल के बाद जब इन्दिरा गांधी को सत्ता छोड़नी पड़ी थी। इसके बाद 1980 में अपने छोटे भाई संजय गांधी की एक प्लेन दुर्घटना में असामयिक मृत्यु के बाद माता इन्दिरा को सहायता देने के लिए सन् 1982 में राजीव गांधी ने राजनीति में एंट्री ली। वो अमेठी से लोकसभा का चुनाव जीत कर सदन पहुंचे और 31 अक्टूबर 1984 को आतंकवादियों द्वारा पीएम इन्दिरा गांधी की हत्या किए जाने के बाद राजीव गांधी भारत के अगले प्रधानमंत्री बने और अगले आम चुनावों में सबसे ज्यादा बहुमत पाकर प्रधानमंत्री बने रहे।

विपक्षी दलों द्वारा राजीव गांधी पर 64 करोड़ रुपए का बोफोर्स घोटाला करने का आरोप भी लगा और इन आरोपों के चलते अगले चुनाव में कांग्रेस पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिल सका। उन पर दूसरा बड़ा आरोप शाहबानो मामले में लगा जब उन्होने संसद में कांग्रेस के प्रचण्ड बहुमत का गलत इस्तेमाल करते हुए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के उल्टा विधेयक पारित करवा लिया। 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों में राजीव द्वारा दिए गए बयान की भी काफी आलोचना हुई। उस समय राजीव ने कहा था कि "जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती तो हिलती ही है।" आपको बता दें कि इन दंगों में लगभग 17000 के करीब सिख मारे गए थे। इसके बाद 21 मई 1991 के आम चुनाव में प्रचार के दौरान तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में एक भयंकर बम विस्फोट में राजीव गांधी की हत्या कर दी गई थी।

अपना 36 वां जन्मदिन मना रहे एनटीआर को मिल रही है फिल्म जगत की शुभकामनाएं

अपनी कार के नंबर के कारण चर्चा में रहा था यह सुपरस्टार

हिन्दू महासभा ने मनाया गोडसे का जन्मदिन समारोह, मचा बवाल