Death Anniversary: गुलशन कुमार की सफलता बनी थी उनकी मौत की वजह

Aug 12 2018 12:00 AM

एक समय था जब बॉलीवुड में गुलशन कुमार के गाने और भजन सबसे ज्यादा सुने जाते थे और आलम आज भी वही है. जी हम बात कर रहे हैं 80 के दशक के उस महान भजन गायक की जिन्होंने 80 के दशक में टी-सीरीज की नींव रखी थी. गुलशन कुमार का जन्म 5 May 1956, में हुआ था और उन्होंने अपने करियर की शुरुआत एक मामूली सी कंपनी में नौकरी की थी. गुलशन कुमार को बचपन से ही म्यूजिक का शौक था और वह बचपन में खूब गाने गाया करते थे. गुलशन कुमार जब एक कंपनी में काम करते थे तभी वह ऑरिजनल गानों को अपनी आवाज में रिकॉर्ड कर उसकी कैसेट बनाकर बेचा करते थे और उनकी कैसेट खूब बिकती भी थी. धीरे-धीरे वह म्यूजिक इंडस्ट्री का जाना-माना नाम बन गए. धीरे-धीरे गुलशन कैसेट किंग के नाम से मशहूर हो गए और उसके बाद उन्होंने प्रोडक्शन के क्षेत्र में कदम रखा.

अब कृति सैनन कहेंगी 'आओ कभी हवेली पर'

बाद में उन्होंने अपनी एक कंपनी ओपन की जिसका नाम टी-सीरीज है और वह कंपनी आज के समय में सबसे बड़ी कंपनी में शामिल है. गुलशन कुमार ने काफी मेहनत और संघर्ष के बाद सफलता हांसिल की और वहीं सफलता उनकी मौत की वजह बन गई. आपको बता दें कि एक समय में सफल गायक गुलशन कुमार की सफलता लोगों को खटकने लगी और साल 1997 में 12 अगस्त के दिन मुंबई के जुहू में जीत नगर इलाके में कुछ लड़कों ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी.

उम्र से बड़ी महिलाओं पर ही आता है निक का दिल, एक तो 30 साल बड़ी थी

गुलशन कुमार की मौत से सभी को गहरा सदमा लगा और उनके बाद पुरे परिवार और टी-सीरीज कंपनी को उनके बेटे भूषण कुमार ने संभाला. आपको बता दें कि जल्द ही गुलशन कुमार की बायोपिक बनने वाली है जिसमे अक्षय कुमार को लिए जाने की बात की गई है. भले ही गुलशन कुमार हमारे बीच ना हो लेकिन वह हम सभी के दिलों में हमेशा जिन्दा रहेंगे.

बॉलीवुड अपडेट्स

तो पापा के पुराने घर में 'गर्लफ्रेंड' के साथ समय बिता रहे हैं टाइगर !

टाइगर श्रॉफ को छोड़ चंकी की बेटी इनके साथ करेंगी बॉलीवुड डेब्यू

भोजपुरी सिनेमा इस रोमांटिक जोड़ी का 'दिल बदतमीज हो गइल'