अनाज देने के बहाने डीलर करता था अश्लील हरकत, बदला लेने के लिए महिलाओं ने उठाया ये खौफनाक कदम

बेगूसराय: बिहार के बेगूसराय में पुलिस ने 3 माह पहले हुए डीलर हत्याकांड मामले में 3 अपराधियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कहा कि डीलर अरुण सिंह अनाज देने के नाम पर गांव की महिलाओं का यौन शोषण करता था। गिरफ्तार एक अपराधी के घर की महिलाओं के साथ भी यौन शोषण किया गया था। इसी बात से खफा होकर अपराधी ने साथियों के साथ मिलकर 10 मार्च को डीलर अरुण सिंह पर चाकू से जमकर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही जान चली गई।

घटना मंझौल थाना इलाके के पावरा गांव की है। यहां 10 मार्च को डीलर अरुण सिंह का बेरहमी से क़त्ल कर दिया गया था। हत्यारोपियों का पता लगाने के लिए पुलिस ने क्षेत्र में लगे CCTV फुटेज खंगाले, जिसमें इन तीनों को वहां से निकलते देखा गया। पुलिस तभी से इन तीनों अपराधियों की तलाश कर रही थी। तकनीकी सहायता से तीनों को अब जाकर गिरफ्तार किया गया।

हालांकि, मृतक डीलर के परिवार वालों ने पहले दो पड़ोसियों को क़त्ल का आरोप लगा था। किन्तु तहकीकात में मामला कुछ और ही सामने आया। एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया कि गिरफ्तार तीनों अपराधियों ने 4 दिन पहले भी पावरा गांव के ही टैंट संचालक अरविंद तांती को भी गोली मारकर घायल किया था। तीनों अपराधियों का टेंट संचालक अरविंद तांती से भी विवाद था। पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार तीनों अपराधियों की पहचान मोहम्मद सोनू, मोहम्मद अशफाक रजा एवं मोहम्मद इनायतुल्लाह के तौर पर हुई। तीनों के पास से पिस्टल, कारतूस एवं मोटरसाइकिल बाइक भी जब्त की गई। पूछताछ में अपराधियों ने बताया कि अरुण अय्याश किस्म का व्यक्ति था। अनाज देने के नाम पर महिलाओं का यौन शोषण करता था। उसने अनाज देने की आड़ में इलाके की कई महिलाओं का यौन शोषण किया था। एक अपराधी के घर की महिलाओं के साथ भी अरुण ने यौन शोषण किया था। जिससे अपराधी को गुस्सा आ गया। उसने साथियों के साथ मिलकर अरुण की हत्या की योजना बनाई। फिर चाकू से गोदकर क़त्ल कर दिया।

पुलिस की वर्दी पहनकर लोगों पर धौंस जमाता था सुहैब, जब सामने आई असली UP पुलिस तो...

नाज़ायज़ संबंधों का शक करती थी पत्नी, पति ने उसी के दुपट्टे से गला घोंटकर मार डाला

बेटे के बाजार जाते ही बहू के कमरे में पहुंच गया ससुर, फिर जो हुआ सुनकर आ जाएगी शर्म

Most Popular

- Sponsored Advert -