मॉर्चुरी में डेढ़ साल बाद मिले 2 कोविड मरीजों के सड़े हुए शव

बेंगलुरु: कर्नाटक (Karnataka) में कोविड-19 (Covid-19) से जुड़ा एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। जी दरअसल यहां के एक अस्पताल की मॉर्चुरी में दो मरीजों की शव मिले हैं, जिनकी आज से करीब डेढ़ साल पहले कोरोना से मौत हो गई थी। इस मामले में मिली जानकारी के तहत शव फ्रीजर में थे और सड़ चुके थे। सबसे खास बात तो यह है कि परिजन पहले ही अपने रिश्तेदार की अंतिम क्रियाएं कर चुके हैं। अब इस खबर के सामने आने से लोग काफी परेशान हैं। वैसे इन दिनों तो दुनियाभर में कोरोना के नए वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ को लेकर चिंता में नजर आ रही है। इस बीच यह मामला चौकाने वाला है।

जी दरअसल यह मामला बेंगलुरु के राजाजीनर शहर में स्थित ईएसआई अस्पताल के शवगृह का है। यहाँ एक मृतक की पहचान दुर्गा सुमित्रा के रूप में हुई है। इस मामले में दुर्गा सुमित्रा के परिजन बताते हैं कि उन्हें अस्पताल की तरफ से एक कॉल आया था कि उनका सड़ा हुई शरीर पुरानी फ्रीजर में मिला है। जैसे ही परिजन को यह खबर मिली उनके होश उड़ गए क्योंकि वे बीते साल ही महिला का अंतिम क्रिया कर्म कर चुके थे। वहीं दूसरी तरफ अधिकारियों का कहना है दूसरा शव बेंगलुरु निवाली मुनिराजू का है।

अधिकारीयों का यह भी कहना है दुर्गा सुमित्रा का दाह संस्कार कर दिया गया था और उनके परिजनों को मृत्यु प्रमाण पत्र भी दे दिया गया था। वहीं दूसरी तरफ उनकी परिजन सुजाता ने बताया, ‘दुर्गा सुमित्रा को कोविड-19 था और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन चार दिनों बाद ही उनकी मौत हो गई थी। हमने जानकारी दी गई थी कि हमारी परंपराओं के अनुसार ही दाह संस्कार किया गया है, लेकिन हमें कल एक फिर कॉल आया कि उनका सड़ा हुआ शरीर बीते 15 महीनों से पुराने फ्रीजर में रखा हुआ है। यह हमारे लिए काफी परेशान करने वाला था।’ फिलहाल इस मामले ने यहाँ के लोगों को हैरानी में डाला हुआ है।

कर्नाटक ने अंतराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए

कर्नाटक में फ्रेशर पार्टी बनी दुश्मन, इस राज्य में भी फूटा कोरोना बम

Omicron Variant: जानिए किन राज्यों में कितने बदल गए नियम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -