डाटा एंट्री आॅपरेटर्स ने दिया धरना, जेल भरो आंदोलन से भरी विरोध की हुंकार

Oct 03 2015 04:26 PM
डाटा एंट्री आॅपरेटर्स ने दिया धरना, जेल भरो आंदोलन से भरी विरोध की हुंकार

रायपुर। राज्य में डाटा एंट्री आॅपरेटर्स बीते एक माह से धरने पर हैं। इसका कोई भी हल नहीं निकल रहा है। जेल भरो आंदोलन और रैली निकालकर धरना दिया गया है। धरने को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह की सरकार को कोसा गया और रैली निकाली गई। सइ दौरान सरकार विरोधी नारेबाजी भी की गई। रैली धरना स्थल से प्रारंभ हो गई। प्रदेशभर के 7043 आॅपरेटर्स आंदोलन पर थे। इन आंदोलनकारियों में से कुछ की गिरफ्तारी भी हुई। 

प्रदर्शनकारी बूढ़ा तालाब क्षेत्र में धरना स्थल पर उन्होंने अपना प्रदर्शन उग्र किया। इस दौरान वे धरने पर रहे। महात्मागांधी और लालबहादुर शास्त्री के छायाचित्र को मंच पर स्थापित किया। दरअसल गांधी जयंती के अवसर पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए। हर कहीं रघुपति राघव राजा राम भजन की प्रस्तुति दी गई।

प्रदेश की ग्राम पंचायतों के 7043 डाटा एंट्री आॅपरेटर्स से धरना स्थल पर बहाली की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल आयोजित की गई। संघ के पदाधिकारियों और सदस्यों द्वारा जेलभरो आंदोलन की बात की गई। मगर इसमें यह भी कहा गया कि वे अपनी जमानत नहीं करवाऐंगे। दरअसल ये आॅपरेटर्स अपनी नियुक्ति को लेकर मांग कर रहे हैं। इनके द्वारा नौकरी बहाली की मांग की जा रही है।बूढ़ापारा धरना स्थल पर ही आंदोलनकारी अपनी मांगों को पुरजोर तरीके से रख रहे थे।