आधी रात को खनन के दौरान दरका पहाड़, मलबे में दबे कई लोग

सीकर: राजस्थान के सीकर जिले के नीमकाथाना क्षेत्र में पाटन के समीप शनिवार देर रात खनन की वजह से बड़ी दुर्घटना हो गई। यहां खुदाई के चलते पहाड़ का एक बड़ा हिस्सा दरक गया। इसके कारण उसके नीचे खड़ी गाड़ियां और काम कर रहे मजदूर नीचे दब गए। तहरीर पर नीमकाथाना पुलिस एवं प्रशासनिक अफसर मौके पर पहुंचे तथा राहत कार्य आरम्भ करवाया। प्रारंभिक रूप से माना जा रहा है कि 3 मजदूर इस खान में दब गए थे। इनमें से दो के शव निकाले जा चुके हैं। 1 चोटिल था उसको हॉस्पिटल भिजवाया जा चुका है।

पुलिस के मुताबिक, दुर्घटना पाटन क्षेत्र के रेला गांव में हुई। दुर्घटना में जिन व्यक्तियों की मौत हुई है उनमें से एक की जाँच दिलपुरा गांव निवासी सुभाष गुर्जर एवं दूसरे की भरतपुर निवासी रवि मेघवाल के तौर पर जाँच हुई है। पुलिस ने दोनों के शव मोर्चरी में रखवा दिए हैं। फिलहाल मौके पर निरंतर पत्थर हटाने का काम चल रहा है। उसके पश्चात् ही नीचे दबी गाड़ियों तथा मशीनों को निकाला जा सकेगा तथा पुरे हालात साफ हो पाएंगे कि आखिर नीचे कितने लोग थे।

प्रारंभिक जानकारी में यह सामने आया है कि यह लीज गजेंद्र सिंह के नाम से आवंटित है। दुर्घटना रात लगभग 11 बजे की बताई जा रही है। अब पुलिस इस तहकीकात में जुटी है कि आखिर यहां पर खनन कौन कर रहा था। रात को बिना सुरक्षा मानकों के खनन क्यों हो रहा था? माइनिंग विभाग के अफसर भी मौके पर पहुंच गये हैं। पुलिस उनसे भी पूरी जानकारी ले रही है। पुलिस का कहना है कि जिसकी भी लापरवाही रही है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

भारत में खूब पसंद आ रही है टाटा महिंद्रा की ये कार

गिरफ्तार हुआ भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, ये है वजह

उदयपुर हत्याकांड: कन्हैया के कातिलों को भीड़ ने भरी कोर्ट में पीटा, देखें Video

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -