दर्द न समझे कोई

दर्द न समझे कोई

प्यार इतना करो की रिश्ता प्यारा रहे

दूर इतना न जाओ की आने का इंतजार रहे

रिश्तो में रखो इतनी मिठास की

रिश्ता टूट जाये पर मिठास हमेशा रहे

दिल को दुखाने वाले दिल का दर्द क्या समझे     

प्यार की रस्मो कसमो  को जमाना क्या समझे

होती है कितनी तकलीफ इस दिल को

यह दिल दर्द  दुखाने वाले क्या समझे