दलितों को नहीं बनाने दे रहे शौचालय

Feb 05 2016 08:26 PM
दलितों को नहीं बनाने दे रहे शौचालय

अहमदाबाद। गुजरात के मेहसाणा में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां दलित दबंगों को परेशान कर रहे हैं। एक यह मामला सामने आने के बाद एक बार फिर दलित - और दबंग का विवाद तेज़ हो सकता है। दरअसल ये पीडि़त बीते 2 वर्षों से मुश्किल में हें। सवर्णों के कारण उन्हें सफलता नहीं मिल रही है। मिली जानकारी के अनुसार मामला लक्ष्मीपुरा - भांडू गांव का बताया जा रहा है। जिसमें यह कहा गया है कि दलित परिवार को मुश्किल उठानी पड़ रही है।

पीडि़तों को अपने घर से आधा किलोमीटर दूर जाना पड़ रहा है। ऐसे में ये लोग खुले में शौच करने के लिए मजबूर हैं। यह मामला राज्य की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के गृहनगर का माना जा रहा है। गांव की जनसंख्या 500 बताई जा रही है। मेहसाणा के विषनगर तालुका के लक्ष्मीपुरा - भांडू गांव में चौधरी समाज का प्रभुत्व है।

ये समाज यहां रहने वाले दलित परिवार को शौचालय का निर्माण नहीं करने देते हैं। दरअसल 65 वर्ष के भीखाभाई सेनमा इसके प्रमुख हैं। सेनमा का परिवार 13 लोगों का है। चरागाह की जमीन पर उनके द्वारा अतिक्रमण करने का आरोप लगाया गया है। उन्होंने कहा कि शिकायत करने पर भी किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई है। दरअसल इनके घर के पास सरकारी जमीन है। दूसरी ओर रसूखदार चौौधरी घर के पीछे से रास्ता निकालना चाहते हैं। जिसके कारण वे इस परिवार को शौचालय बनाने नहीं दे रहे हैं।