दादरी हत्याकांड के बाद बढ़ा तनाव, मामला पहुंचा अल्पसंख्यक आयोग

Oct 01 2015 02:51 PM
दादरी हत्याकांड के बाद बढ़ा तनाव, मामला पहुंचा अल्पसंख्यक आयोग

दादरी ​: हाल ही में एक युवक के घर बीफ मिलने और उसके बच्चे द्वारा बीफ लेकर जाने का मामला सांप्रदायिकता का रंग लेता जा रहा है। यह मामला राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग में पहुंच गया। इस दौरान सामाजिक कार्यकर्ता और अधिवक्ता शहजाद पूनावाला द्वारा इस संबंध में रिटी राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग में दायर की गई। इस दौरान शहजाद पूनावाला ने कहा कि उनकी रिट स्वीकार कर ली गई जिस पर संज्ञान लिया गया। 

मामले में शहजाद पूनावाला द्वारा कहा गया कि राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग द्वारा इस मामले में प्रतिक्रिया व्यक्त की गई। इसे सांप्रदायिकता का बड़ा रूप माना जा रहा है। इस मामले में जिला मजिस्ट्रेट से चर्चा की गई है। माना गया है कि शहजादपूनावाला का घटनाक्रम कंपकंपा देने वाला है। बिसाहड़ा में जो कुछ भी हुआ वह झकझोर देने वाला है। दोषी वहीं हैं जिनके द्वारा इकबाल की हत्या की गई। इस मामले में यह भी कहा गया है कि प्रदेश और केंद्र सरकार की जिम्मेदारी भी तय की गई। इस मामले में पुलिस द्वारा कई लोगों को पकड़ लिया गया है, मगर याचिका दायर कर इस मामले में 100 से भी अधिक दोषियों को पकड़ने की मांग की गई।

घायलों के लिए उपचार के साथ आर्थिक सहायता की मांग की गई। गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। इस मामले में सुरक्षा का प्रबंध किया गया है। दूसरी ओर मुस्लिम परिवार द्वारा यहां से पलायन किया जा रहा है। कई लोग ताला लगाकर गांव की ओर चले गए। ग्रामीणों द्वारा कहा गया है कि कुछ परिवारों द्वारा अपने रहने का स्थान बदल लिया गया है। सांप्रदायिक तनाव की आशंका में लोग पहले ही अपने रहने के लिए खाद्यान्न आदि एकत्रित करने लगे हैं। दूसरी ओर पुलिस का बंदोबस्त भी किया गया है।