दादरी हत्याकांड : उत्तरप्रदेश सरकार की रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं है गृह मंत्रालय

नई दिल्ली : उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा दादरी के बिसाहड़ा गांव में हुई घटना को लेकर गृहमंत्रालय की ओर अपनी रिपोर्ट पेश की गई। इस रिपोर्ट को गोमांस से जोड़ने से परहेज किया जा रहा है।  केंद्रीय गृहमंत्रालय को भेजी रिपोर्ट में उत्तरप्रदेश सरकार साफतौर पर कुछ भी नहीं कह रही है। केंद्रीय गृहमंत्रालय द्वारा गोमांस के सेवन की अफवाह के कारण भीड़ द्वारा अखलाक को पीट पीटकर मार डाला गया, जिसके कारण प्रतिबंधित जानवरों के मांस का उल्लेख किया गया है। यूं तो गृहमंत्रालय द्वारा इस तरह की रिपोर्ट को सतही कहा गया। उप्र सरकार को विस्तार से रिपोर्ट दिए जाने की बात कही गई है।

प्रदेश सरकार से रिपोर्ट मिलने की पुष्टि भी कर दी गई। गृह मंत्रालय के अधिकारी द्वारा कहा गया कि गोमांस का उल्लेख इस मसले पर नहीं किया गया है। उल्लेखनीय है कि गांय का वध करने के आरोप में अखलाक की हत्या कर दी गई। यही नहीं उसके पुत्र दानिश को भी घायल कर दिया। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, आॅल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुसलमीन के नेता असदुद्दीन ओवैसी, केंद्रीय राज्यमंत्री महेश शर्मा व मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी और भारतीय जनता पार्टी के विधायक सगीत सोम सम्मिलित हैं। इस तरह की अफवाह को रोकने के लिए बड़े इंतजाम किए गए। इस घटना के बाद क्षेत्र में शांति और भाईचारे के फिर से स्थापित करने को अहमियत दी गई है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -