इन राज्यों में कयामत के आसार, तबाही मचाने के लिए करीब आ रहा भयानक तूफान

कई राज्यों के लिए बंगाल की खाड़ी में उठ रहे तूफान अम्फान खतरा बन सकता है. मौसम विभाग के अनुसार इस समय देश में वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस एक्टिव है. इसके कारण देश के पहाड़ी क्षेत्रों जैसे, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के साथ ही पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान व पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी मौसम बिगड़ सकता है.

गुजरात में अब तक का सबसे बड़ा ​कोरोना संक्रमण का आंकड़ा आया सामने

इस मामले को लेकर मौसम विभाग के अनुसार, इस दौरान 70 किलोमीटर प्रतिघंटे तक तेज हवाएं चलेंगे और बारिश भी होगी.मौसम विभाग इसे लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ अभी भी सक्रिय है. इसका असर पर्वतीय इलाकों जैसे जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के साथ-साथ पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी बना हुआ है. जिसे लेकर मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

क्या चालू किए जा सकते है उद्योग-धंधे ?

मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी और पड़ोसी छेत्रों से उठा चक्रवाती तूफान अम्फान अगले 12 घंटे में खतरनाक रूप ले सकता है. दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी में करीब 1000 किलोमीटर की दूरी पर अगले 12 घंटे में चक्रवाती तूफान में तेजी से वृद्धि हो सकती है. ओडिशा के तटीय इलाके और आसपास के क्षेत्र में तूफान की चेतावनी दी है. सरकार ने मछुआरों को चेतावनी दी है कि वह 18 मई से समुद्र में या ओडिशा के समुद्री तटों पर ना जाएं. चक्रवाती तूफान के खतरे को देखते हुए ओडिशा सरकार ने 12 तटीय जिलों में अलर्ट जारी किया है. पश्चिम बंगाल के मछुआरों को भी चेतावनी दी गई है कि वे 18 से 21 मई के बीच बंगाल की खाड़ी या पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटवर्ती क्षेत्रों में ना जाएं. जो मछुआरे पहले से समुद्र में हैं, उन सभी को 17 मई तक लौटने को कहा गया है.

दिल्ली-ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर मजदूरों ने किया हंगामा, सीएम योगी के आदेश पर यूपी में नहीं मिली एंट्री

क्या है राज्य में लॉकडाउन समाप्त करने को लेकर सीएम बिरेन सिंह की योजना

यहां पर लोगों की आवाजाही पर होगी रोक, नए प्रकार का होगा लॉकडाउन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -