'वायु' से निपटने के लिए तैनात की गई राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन की 36 टीमें

Jun 12 2019 02:23 PM
'वायु' से निपटने के लिए तैनात की गई राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन की 36 टीमें

अहमदाबाद : अरब सागर में उठा चक्रवात वायु गुरुवार को गुजरात तट से टकरा सकता है। बुधवार को मौसम विभाग ने कहा कि तूफान के असर से 175 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। इसके असर से उत्तरी गुजरात के नौ तटीय जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई। पर्यटकों को द्वारका, सोमनाथ, सासन और कच्छ के तटीय इलाकों से दूर रहने की सलाह दी है। 

विदिशा-सागर रोड पर पलटी तीर्थयात्रीयों की बस, 4 की मौत

तैनात की गई 36 टीमें 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन की 36 टीमें तैनात की गई हैं। आईएमडी के अनुसार, वायु चक्रवात पोरबंदर, महुवा और दमन दीव क्षेत्र गुजरात के उत्तरी इलाके की ओर बढ़ रहा है। जूनागढ़, अमरेली, गिर, सोमनाथ, दीव, राजकोट, जामनगर, पोरबंदर, द्वारका और भावनगर में भारी बारिश हो सकती है। इस बीच मुंबई मौसम विभाग के प्रभारी बिशवोम्भर सिंह ने कहा है कि मुंबई में चक्रवात का ज्यादा असर नहीं पड़ेगा। हालांकि, हवाओं के साथ हल्की बारिश हो सकती है।

महानायक के बाद अदनान के ट्विटर पर लगी इमरान की फोटो, चौंका देगी वजह

दूसरे राज्यों की सरकार भी संपर्क में

जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि तटीय इलाकों मेें रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। प्रशासन ओडिशा सरकार के साथ संपर्क में है, ताकि तूफान फैनी के जैसे नुकसान को कम करने के तरीकों की जानकारी मिल सके। सभी कर्मचारियों को छुट्टी रद्द कर ड्यूटी पर लौटने को कहा है। तटीय इलाकों में सभी स्कूल, कॉलेज और आंगनवाड़ी केंद्रों को 13 और 14 जून को बंद रखा जाएगा।

नितीश कैबिनेट के इस फैसले के बाद अब बच्चों के लिए जरुरी होगी माता-पिता की सेवा

गंगा दशहरा पर हरिद्वार में उमड़ी भक्तों की भीड़, सूर्योदय से शुरू हुआ स्नान

सर्च ऑपरेशन के दौरान अरुणाचल प्रदेश में नजर आया एएन-32 एयरक्राफ्ट का मलबा