गोवा की तरफ तेजी से बढ़ रहा है चक्रवाती तूफान, हो सकती है भीषण तबाही

भारत मौसम विज्ञान विभाग का अनुमान है कि अरब सागर में मौसम की स्थिति तेज हो गई है। समुद्र की गति एक गहरे अवसाद में बदल जाती है, जो 17 मई को "बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान" में और तेज होने और एक दिन बाद गुजरात तट को पार करने की संभावना है। 'तौकता' के शनिवार सुबह तक तेज होकर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। 

यह शनिवार रात तक और तेज होकर भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है। इसके 18 मई की सुबह तक गुजरात तट पर पहुंचने की संभावना है। मौसम एजेंसी के अनुसार, "16-19 मई तक, यह 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा की गति के साथ" बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान "में तेज होने की संभावना है। 175 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाला तूफ़ान है।

जंहा यह भी कहा जा रहा है कि ये चक्रवात  केरल, कर्नाटक, लक्षद्वीप, गोवा और महाराष्ट्र के तट सहित क्षेत्रों को प्रभावित करने की संभावना है। साथ ही, मछुआरों को 17 मई तक समुद्र में न जाने की चेतावनी जारी की गई है। म्यांमार द्वारा 'तौकता' नाम की सिफारिश की गई थी जिसका अर्थ है अत्यधिक मुखर छिपकली।

ग्रामीण क्षेत्रों में फैले कोरोना वायरस पर प्रधानमंत्री मोदी ने चिंता व्यक्त कर कही ये बात

पीएम किसान योजना के तहत 55 लाख से अधिक कर्नाटक के किसानों को मिले कुल 985.61 करोड़ रुपये

पश्चिम बंगाल से तमिलनाडु पहुंची पहली मेडिकल ऑक्सीजन एक्सप्रेस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -