CWG : सीजीएफ के फैसले के खिलाफ अपील करेगा भारत

दो भारतीय एथलीटों को ‘नो नीडल पॉलिसी’ के उल्लंघन के कारण राष्ट्रमंडल खेलों से बाहर कर स्वदेश भेजा जा रहा है. अब सीजीएफ अदालत के फैसले के खिलाफ भारतीय दल अपील करने जा रहा है. भारतीय दल के मैनेजर नामदेव शिरगांवकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा ,‘हम कुछ फैसलों के खिलाफ हैं और अपने आला अधिकारियों से बात करेंगे. हम इन फैसलों के खिलाफ अपील करेंगे.’ इस मौके पर भारत के दल प्रमुख विक्रम सिसोदिया भी मौजूद थे.

भारतीय रेस वॉकर केटी इरफान और ट्रिपल जंपर वी राकेश बाबू को उनके बेडरूम से सुई बरामद होने के बाद खेलों से बाहर करके स्वदेश रवाना कर दिया गया. भारतीय अधिकारियों को भी सीजीएफ ने कड़ी फटकार लगाई है. भारतीय एथलेटिक्स टीम के मैनेजर रवींद्र चौधरी ने कहा ,‘ काफी कन्फ्यूजन है. हमारे एथलीटों पर प्रतिबंध क्यों लगाया गया. इसकी पुष्टि कैसे की. बाबू के बैग से सीरिंज मिलने पर इरफान पर प्रतिबंध क्यों लगाया गया .’

उन्होंने कहा ,‘सीजीएफ को इतना यकीन कैसे है कि दोनों खिलाड़ी एक ही सीरिंज का इस्तेमाल कर रहे थे. बाबू ने स्वीकार किया, लेकिन इरफान का क्या.’ गौरतलब है कि २१ वे राष्ट्रमण्डल खेलो में भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है अगर इन दो  भारतीय एथलीटों को ‘नो नीडल पॉलिसी’ के उल्लंघन के कारण राष्ट्रमंडल खेलों से बाहर कर दिया जाना भारतीय उम्मीदों को गहरा आघात है.

 

CWG2018 : 15 साल के अनीश ने जीता गोल्ड

CWG2018 : हॉकी में फाइनल की दौड़ से बाहर भारतीय महिलाएं, कांस्य के लिए इंग्लैंड से मुकाबला

CWG2018 :सीमा पूनिया को फिर सिल्वर से करनी पड़ी संतुष्टि

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -