शापित माना जाता है ये मंदिर, भयानक रहा है इसका इतिहास

भगवान के मंदिर भला कैसे शापित हो सकते हैं. कहा जाता है भगवान के मंदिर में भूत प्रेत नहीं आते. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे ही मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे शापित कहा जाता है. ऐसे ही शक्ति का रूप माँ दुर्गा भक्तों के लिए बहुत पूजनीय हैं. माँ दुर्गा के विभिन्न रूपों का अपना महत्व हैं और उन सभी की पूजा-अर्चना करने का अपना तरीका. लेकिन आज हम बताने जा रहे हैं माँ दुर्गा के एक ऐसे मंदिर के बारे में जिसे शापित माना जाता हैं और वहाँ ठहरना खतरे से खाली नहीं. तो आयी जानते हैं इस मंदिर के बारे में.  

यह मंदिर कहीं और नहीं बल्कि मध्य प्रदेश के देवास जिले में स्थित मंदिर की. यहां कुछ लोग आस्थावश आते हैं तो कुछ इसके शापित होने जैसे अंधविश्वास की वजह से यहां आने से परहेज करते हैं. कहा जाता है मां दुर्गा के इस प्राचीन मंदिर के साथ बहुत सी कहानियां जुड़ी हुई हैं. कुछ लोग कहते हैं कि यहां मां दुर्गा को बलि चढ़ाना आवश्यक होता है. इतना ही नहीं बहुत से लोग ऐसे भी हैं जो ये मानते हैं कि यहां किसी औरत की आत्मा भटकती है. 

इस घटना के पश्चात राजपुरोहित ने राजा से कहा कि अब यह मंदिर अपवित्र हो चुका है, इसलिए यहां पूजा-अर्चना करने का कोई अर्थ नहीं है. पुरोहित ने कहा कि यहां जो मूर्ति है उसे हटाकर कहीं और प्रतिष्ठित करवाना ही बेहतर है. वहीं अगर इस मंदिर के इतिहास को देखा जाए तो यह बात सामने आती है कि देवास के महाराज ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था. लेकिन निर्माण के बाद ही राजघराने में आए दिन कोई ना कोई अशुभ घटना घटने लगी. 

कलह-क्लेश इतने बढ़ गए कि परिवार के ही लोग एक-दूसरे के खून के प्यासे हो गए. किंवदंतियों के अनुसार राजकुमारी और राज्य के सेनापति के बीच प्रेम संबंध होने जैसी बात जैसे ही फैली वैसे ही उन्हें एक दूसरे से अलग करने की जुगत तेज हो गई. राजा यह नहीं चाहता था कि उसकी पुत्री एक सेनापति से प्रेम करे, इसलिए उसने राजकुमारी को महल में बंधक बनाकर दोनों को एक-दूसरे से अलग कर दिया जिसके कारण उसकी मौत हो गई. इसी के बाद कहा जाता है कि उसी का भूत भटकता रहता है.  

नहीं मिल रहा वीसा तो जाएं ये मंदिर, झट से बनेगा काम

इस कारण से हर किसी की पहली पसंद है AK 47, जानिए इसकी खास बातें

बॉलीवुड के तीन खान की वजह से फिल्मों से दूर हो गई ये मशहूर एक्ट्रेस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -