आतंकी हमला हो या 'कोरोना' संकट, देश के लिए हर जंग लड़ने को तैयार CRPF के जवान

Apr 10 2020 04:57 PM
आतंकी हमला हो या 'कोरोना' संकट, देश के लिए हर जंग लड़ने को तैयार CRPF के जवान

नई दिल्ली: प्रतिदिन कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के साथ ही देश में स्वास्थ्य संबंधी उपकरणों की किल्लत की ख़बरें भी सामने आ रही हैं. कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में स्वास्थ्यकर्मियों की तरफ से लगातार आवश्यक मेडिकल सुविधाओं की मांग की जा रही है. इस कमी को पूरा करने के लिए अब आर्मी भी आगे आ चुकी है.

देश में किसी बाहरी दुश्मन का हमला हो या नक्सली अटैक, सेना उससे लड़ने के लिए हर समय तैयार रहती है. आज देश के सामने कोरोना वायरस का संकट है. इससे निपटने के लिए भी CRPF आगे आई है. इस बार CRPF के जवान पीपीई सूट और मास्क तैयार कर रहे हैं. दिल्ली में सीआरपीएफ के कैंप में इस समय भारी संख्या में पीपीई सूट और मास्क बनाए जा रहे हैं. चौबीसों घंटे काम करते हुए CRPF जवान कैंप में प्रतिदिन लगभग 40-50 हजार मास्क और 300-400 पीपीई सूट तैयार कर रहे हैं. 

दरअसल, देशभर में जिस तरीके से मास्क और पीपीई सूट की जरुरत में वृद्धि देखी गई है, ऐसे में सीआरपीएफ जवान अब कोरोना की इस आपदा से लड़ने के लिए देश हित में काम करने में लग गए है. CRPF के आईजी राजू भार्गव ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सीआरपीएफ के इस शिविर में जो मशीन लगाई गई है, उसकी मास्क बनाने की क्षमता प्रतिदिन एक लाख से अधिक की है. अभी शुरुआत है. इसलिए 40-50 हजार रोज़ाना मास्क बनाए जाएंगे. आने वाले दिनों में जिन राज्यों में इसकी मांग होगी, वहां भी इसकी आपूर्ति की जाएगी.

सरकार ने दी NPS से पैसा निकालने की इजाजत, सवा करोड़ लोगों को मिलेगी राहत

फटाफट सामने आ सकते है कोरोना पॉजिटिव, इस मशीन को मिली मान्यता

कोरोना से बचने के लिए हर नियम को फॉलो कर रहे स्वास्थकर्मी