घर से इस हालत में मिली बुजुर्ग भाई-बहन की लाश, जांच में जुटी पुलिस

Jun 14 2019 04:27 PM
घर से इस हालत में मिली बुजुर्ग भाई-बहन की लाश, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली : राजधानी के भारत नगर के राणा प्रताप बाग स्थित एक घर में बुजुर्ग भाई-बहन की मौत का मामला पुलिस दूसरे दिन भी नहीं सुलझा पाई। राजकुमारी (79) का शव सड़ी-गली हालत में कमरे में फर्श पर मिला, जबकि लकवे का शिकार बीमार भाई चमनलाल खोसला (95) का शव बरामदे में चारपाई पर मिला। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि पहले वृद्धा की मौत हुई और उसके बाद भाई ने भी दम तोड़ दिया।

हड़ताल : स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने की ममता बनर्जी से अपील, कहा- वह इसे अपनी प्रतिष्ठा का मुद्दा न बनाएं 

नहीं मिले चोट करे निशान 

जानकारी के मुताबिक दोनों के शरीर पर किसी भी तरह के चोट के निशान नहीं मिले हैं। मौत की वजह गर्मी और भूख-प्यास हो सकती है, जिसकी पुलिस जांच कर रही है।  पुलिस के अनुसार, चमनलाल और राजकुमारी अकेले राणा प्रताप बाग में पुश्तैनी मकान में रहते थे। दोनों अविवाहित थे। राजकुमारी डाकघर से रिटायर्ड थीं, जबकि चमनलाल एलआईसी से रिटायर्ड थे। चार बहन-भाइयों के परिवार में चमन के इकलौते विवाहित भाई जीवन लाल खोसला अपने परिवार के साथ आनंद विहार में रहते हैं, इनका भतीजा गुरुग्राम में रहता है। 

चक्रवाती तूफान ‘वायु’ से राज्य को अब और खतरा नहीं, सीएम विजय रूपाणी ने की घोषणा

अंदर से बंद था दरवाजा 

बताया जा रहा है सोमवार व मंगलवार को चमन के भतीजे ने बुआ राजकुमारी और ताऊ चमन को कॉल किया, तो उनका फोन नहीं उठा। बुधवार को भी जब ऐसा हुआ, तो उसने पड़ोस में रहने वाले एक शख्स से दोनों का हालचाल लेने के लिए कहा। पड़ोसी जब घर पहुंचे तो घर का दरवाजा अंदर से बंद था। धक्का देने पर दरवाजा खुल गया। घर के अंदर से तेज दुर्गंध आई। अंदर जाने पर बरामदे में चमन का शव चारपाई पर मिला, जबकि राजकुमारी अंदर कमरे में फर्श पर मृत मिली। राजकुमारी का शव सड़ चुका था।

हड़ताल के बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से मिला डॉक्टर्स एसोसिएशन

11 साल की बच्ची ने किया ऐसा काम, सुनकर तारीफ़ किए बिना नहीं रह पाएंगे आप

बिहार में दो राजद नेताओं को बदमाशों ने मारी गोली, स्थिति नाजुक