सौहार्द के नृत्य पर चढ़ा हिंदूत्व का रंग, गोमूत्र छिड़ककर पवित्र करेंगे वातावरण

मांडवी : वर्षों से युवाओं के बीच गरबों का आकर्षण होता है। बड़े पैमाने पर युवा गरबा खेलने पहुंचते हैं। गुजरात में गरबों की खासी रौनक रहती है। मगर इस बार गुजरात में गरबा आयोजन में भी हिंदूत्व की राजनीति झलक रही है। हाल ही में हिंदूत्ववाद से जुड़े कुछ गरबा आयोजकों ने ऐसा निर्णय लिया है। जिसके अंतर्गत गरबा में आने वाले हिंदूओं को तिलक लगाने के ही साथ गोमूत्र भी छिड़कना होगा।

मिली जानकारी के अनुसार सनातन हिंदू समाज के तत्वावधान में एक बैठक का आयोजन किया गया जिसमें यह कहा गया कि 15 से 20 गरबा आयोजकों को लेकर बैठक ली जा रही है जिसमें यह कहा गया है कि अन्य धर्मों के लोगों को गरबे में प्रवेश करने से रोकने के लिए ऐसा किया जा रहा है। यही नहीं गरबा स्थल पर आने वाले हिंदूओं के सिर पर तिलक लगाकर उनका स्वागत किया जाएगा। उसके आने पर उसके उपर गोमूत्र का छिड़काव भी किया जाएगा। आयोजकों का कहना है कि ऐसे में गरबा पांडाल का वातावरण पवित्र बनाया जा सकेगा। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -