गाय के नाम जारी हुआ परीक्षा का एडमिट कार्ड, अलॉट की बैठने की सीट

May 02 2015 09:44 PM
गाय के नाम जारी हुआ परीक्षा का एडमिट कार्ड, अलॉट की बैठने की सीट

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में शिक्षा को मजाक बना के रख दिया गया है। अधिकारियों की गलती के कारण एक प्रोफेशनल एंट्रेस एग्जाम में एक गाय के नाम एडमिट कार्ड जारी करने का मामला सामने आया है। मामला के जानकारी उस वक्त मिली, जब राज्य में विपक्षी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रवक्ता जुनैद आजिम मट्टू ने इस एडमिट कार्ड की एक कॉपी टि्वटर पर अपलोड की। यह एडमिट कार्ड डिप्लोमा इन पॉलिटेक्निक के दाखिले के लिए बोर्ड ऑफ प्रोफेशनल एंट्रेंस एग्जामिनेशन्स द्वारा जारी किया गया। यह एडमिट कार्ड कचिर गाव (भूरी गाय) के नाम से जारी किया गया, जिसे गुरा दंड नाम के सांड की बेटी बताया गया। इस गाय को बेमिना के गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज में सीट अलॉट की गई।

परीक्षा 10 मई को होनी है। मट्टू ने बताया कि जम्मू कश्मीर बोर्ड ऑफ प्रोफेशनल एंट्रेंस एग्जामिनेशन ने वेरिफिकेशन की प्रक्रिया के बाद गाय को रोल नंबर स्लिप जारी कर दिया। उन्होंने बताया कि बाद में बोर्ड की वेबसाइट से इस एडमिट कार्ड का रिकॉर्ड हटा लिया गया। मट्टू ने इस मामले में राज्य के शिक्षा मंत्री नईम अख्तर से जवाब मांगा। वहीं, पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के वर्किंग प्रेसिडेंट उमर अब्दुल्ला ने मट्टू के ट्वीट पर कमेंट किया, ''शानदार। उम्मीद है कि कचिर गाव एग्जाम देने जरूर पहुंचेगी।''

बोर्ड के एग्जामिनेशन कंट्रोलर फारुख अहमद मीर ने कहा, ''परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन किए जाते हैं। इमेज पहचानने वाले सॉफ्टवेयर के जरिए कैंडिडेट्स की पहचान की जाती है। दुर्भाग्य से यह सॉफ्टवेयर एक इंसान के चेहरे और पशु की तस्वीर में फर्क नहीं कर सकता। किसी ने शरारत की है।'' एडमिट कार्ड पर उनके सिग्नेचर के बारे में पूछे जाने पर मीर ने कहा, ''मैं निजी तौर पर एडमिट कार्ड साइन नहीं करता। यह सिस्टम जनरेटेड सिग्नेचर है।'' हालांकि, मीर ने कहा कि वह आईपी एड्रेस के जरिए शरारत करने वाले शख्स की पहचान करेंगे और उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी करेंगे।