ट्रम्प ने किया दावा, साल के अंत तक बना ली जाएगी कोरोना वैक्सीन

वाशिंगटन: पिछले कई दिनों से लगातार बढ़ती जा रही कोरोना वायरस की समस्या से आज के समय में हर कोई परेशान है वहीं इस वायरस के बढ़ते प्रकोप और महामारी की चपेट में आने से आज न जाने ऐसे कितने लोग है जिनकी जाने जा चुकी है, वहीं चीन से शुरू हुए जानलेवा हुए कोरोना वायरस ने सबसे ज्यादा तबाही अमेरिका में मचाई है. किसी भी दूसरे देश के मुकाबले अमेरिका में वायरस की वजह से सबसे ज्यादा मौत हुई है. दुनिया भर के कई देश इसका इलाज खोजने में जुटे हुए हैं. इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार दावा करते हुए कहा है कि कोरोना वायरस का वैक्सीन साल के अंत तक उपलब्ध हो जाएगा.

ट्रंप ने फॉक्स न्यूज के वर्चुअल टाउन हॉल में कहा, 'मुझे लगता है कि हमारे पास साल के अंत तक एक वैक्सीन होगा.' जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के अनुसार कोरोना वायरस की महामारी से संक्रमित लोगों का आकड़ा 11 लाख 57 हजार 687 हो गया है. जबकि वायरस से जान गंवाने वालों की कुल संख्या 67,674 हो गई है. कोरोना महामारी की वजह से वैश्विक स्तर पर अबतक 2 लाख 47 हजार 306 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 35 लाख को पार कर गई है.

कोरोना वायरस के इलाज के लिए वैक्सीन की खोज पहले से ही दुनिया भर में तेज हो गई है. यूरोपीय संघ ने एक अंतरराष्ट्रीय चिकित्सा कार्यक्रम ( International Medical Program) स्थापित करने का वादा किया है, जिससे कोरोना वायरस से लड़ने की वैश्विक प्रतिक्रिया का नेतृत्व किया जा सके और साथ ही महामारी की वैक्सीन बनाने के लिए 8 बिलियन अमरीकी डालर का फंड इकट्ठा किया जा सके. ब्रिटेन में, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनर इंस्टीट्यूट में वैज्ञानिकों द्वारा विकसित कोविड-19 के संभावित वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल शुरू हो गए हैं. इस बीच, यूरोप के अन्य डेवलपर्स ने भी कोरोना वायरस के कारण होने वाली बीमारी के खिलाफ अपने काम को आगे बढ़ा दिया है.

इराक में आतंकियों और सुरक्षा बल के बीच हुई मुठभेड़, 4 को किया ढेर

जॉनसन का बड़ा बयान, कहा- डॉक्टरों ने एक समय मुझे कर ली थी मृत घोषित करने की तैयारी

माइक पोंपियो का बड़ा बयान, कहा- कोरोना वायरस चीनी प्रयोगशाला से निकला है

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -