उद्यमियों तथा व्यापारियों को सीएम योगी ने बांटे चेक

उत्तर प्रदेश में वैश्विक महामारी के कहर के बीच में रोजगार सृजन का आगाज हो गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के ऑनलाइन ऋण मेले के हिस्से के रूप में एमएसएमर्स (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम) क्षेत्र से जुड़े लोगों को चेक सौंपे. सीएम ऑफिस लोक भवन में इस कार्यक्रम के तहत करीब 36000 उद्यमियों तथा व्यापारियों को करीब 1600-2000 करोड़ रुपये के ऋण मिलेंगे. इसके बाद यह लोग प्रवासी कामगार/श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराएंगे.

आर्थिक पैकेज पर विजय माल्या ने दी बधाई, कहा- मुझसे भी पैसे ले लो और मामला ख़त्म करो

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि लोक भवन में टीम-11 की बैठक से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने सूक्ष्म, लघु, सूक्ष्म और मध्यम उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन तथा खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, प्रमुख सचिव नवनीत सहगल तथा अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में लाभार्थियों को ऋण का चेक प्रदान किया.

आर्थिक पैकेज बताया- 'अंधे की रेवड़ी', दिग्गी राजा ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

इसके अलावा कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लम्बे लॉकडाउन से प्रदेश में सार्वजनिक उपक्रम व सरकारी संस्थानों से समय पर भुगतान न मिलने से एमएसएमई उद्यमी परेशान हैं. उनकी परेशानी में प्रदेश सरकार खड़ी हो गई है. सरकार इनका काम आगे बढ़ाने के साथ ही इनका फंसा पैसा भी वापस दिलाएगी. इसके लिए नीति भी तैयार की जा रही है, जिसमें समय पर भुगतान न करने वालों के खिलाफ बाकायदा आरसी जारी की जा सकेगी. लघु, सूक्ष्म और मध्यम उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन सिद्धार्थनाथ सिंह ने साफ कहा कि नए उद्योग अफसरशाही में न फंसें, इसके लिए नई उद्योग नीति तैयार कर ली गई है. जिसे लॉकडाउन खुलते ही पहली कैबिनेट में ही पेश किया जाएगा.

इस वीडियों नेटवर्क पर नवजोत सिंह सिद्धू ने बनाया अकाउंट

आखिर क्यों बहुत दुखी है सीएम योगी ?

पीएम मोदी के राहत पैकेज पर बसपा प्रमुख मायावती ने बोली यह बात

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -