लोग मर रहे हैं और स्वास्थ्य मंत्री बंगाल में धरना दे रहे हैं: शिवसेना

May 10 2021 12:36 PM
लोग मर रहे हैं और स्वास्थ्य मंत्री बंगाल में धरना दे रहे हैं: शिवसेना

मुंबई: शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में खुलकर BJP से लेकर कांग्रेस तक पर निशाने साढ़े जाते हैं। ऐसे में अब एक बार फिर से सामना में कोरोना संक्रमण रोकथाम के मामले में केंद्र सरकार को विफल बताया गया है। जी दरअसल सामना के संपादकीय में लिखा है कि, ''अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी कह दिया है कि मोदी सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए जो टास्क फ़ोर्स बनाई थी वो पूरी तरह से फेल हो चुकी है। सुप्रीम कोर्ट ने इसकी नाकामी को देखते हुए राष्ट्रीय स्तर के 12 डॉक्टर्स को इसमें शामिल किया है। ये केंद्र के गाल पर एक तमाचे की तरह है।''

इसी के साथ सामना में लिखा गया है कि, ''देश में लगातार दवाएं, टीकाकरण और ऑक्सीजन की कमी के मामले सामने आ रहे हैं लेकिन केंद्र सरकार का पूरा ध्यान अभी भी बंगाल पर ही लगा हुआ है। सुप्रीम कोर्ट ने जो समिति बनाई है इस तरह विशेषज्ञों की मदद मोदी सरकार भी ले सकती थी लेकिन अगर उन्होंने ऐसा किया होता तो इसमें उनके परिवार के ही 112 लोग शामिल हो जाते और स्थिति और गंभीर ही हो जाती।'' वही सामना के संपादकीय में स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन पर भी सवाल खड़े किए गए हैं।

सामना में लिखा गया है कि, ''वैक्सीन, दवाओं की कालाबाजारी हो रही है और हर्षवर्धन बिना मास्क पहने पश्चिम बंगाल की सड़कों पर धरना दे रहे हैं। उन्हें देखकर विश्व स्वास्थ्य संगठन का सिर भी चकरा गया होगा क्योंकि फिलहाल WHO के कार्याध्यक्ष हैं। ऐसा लग रहा है कि स्वास्थ्य मंत्रालय को पता ही नहीं है कि देश में स्थिति कितनी खराब हो चुकी है। सुप्रीम कोर्ट और अन्य राज्यों के हाईकोर्ट कदम उठा रहे हैं लेकिन केंद्र सरकार बंगाल और असम में ही व्यस्त है।''

वही आगे इसमें लिखा गया है, 'ब्रिटेन की कोविड टास्क फ़ोर्स के अध्यक्ष फ्लाइव डिक्स ने दावा किया है कि अगस्त महीने तक ब्रिटेन पूरी तरह से कोरोनामुक्त हो जाएगा। इधर अहम गर्म पानी पीने और 30 सेकेंड सांस रोक कर संक्रमण फैलने से रोकने जैसी सलाह दे रहे हैं। ये सब बातें सरकार से जुड़े लोग कर रहे हैं जिससे दुनिया में हमारी बदनामी हो रही है और ये साबित हो रहा है कि ये देश सांप, बिच्छू, हाथी और मदारी का ही है।'

हॉस्पिटल में ऑक्सीजन के लिए तड़प रहे थे मरीज, रास्ता भटक गया टैंकर, एक साथ 7 की मौत

सोनू सूद ने शेयर किया इमोशनल वीडियो, देखकर रो देंगे आप

कोरोना से 26 वर्षीय डॉक्टर की मौत, पॉजिटिव होने के चंद घंटों में गई जान