मुंबई में तीन दिनों के लिए वैक्सीनेशन पर लगी रोक, ये है वजह

मुंबई: आप सभी जानते ही होंगे देश में 1 मई से कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरूआत होने जा रही है। अब इससे ठीक एक दिन पहले मुंबई में तीन दिनों के लिए वैक्सीनेशन पर रोक लग चुकी है। कहा जा रहा है इसकी वजह टीके की कमी है। हाल ही में ग्रेटर मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन ने एक बयान में यह कहा है कि ''मुंबई में शुक्रवार से टीकाकरण नहीं होगा। 1 मई से 18 साल से ऊपर के लोगों का टीकाकरण शुरू हो रहा है।''

इसके अलावा GMMC ने अपन बयान में यह भी कहा है कि, ''वैक्सीन की कमी की वजह से तीसरे चरण का काम भी देरी से शुरू होगा। मुंबई में 30 अप्रैल यानी शुक्रवार से 2 मई तक वैक्सीन उपलब्ध न होने की वजह से टीकाकरण पूरी तरह से बंद रहेगा।'' वहीं निगम ने यह भी कहा है कि, ''अगर इस दौरान वैक्सीन उपलब्ध हो जाती है तो लोगों को मीडिया और सोशल मीडिया के माध्यम से सूचित किया जाएगा।'' प्रशासन ने एक अपील करते हुए कहा है कि ''वरिष्ठ नागरिक और 45 साल से ज्यादा उम्र के लोग घबराएं नहीं और वे लोग टीकाकरण केंद्रों के बाहर न जुटें। जिन लोगों ने वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन किया है, उन सभी लोगों को टीका लगाया जाएगा।''

बीते गुरुवार को BMC के एडिश्नल कमिश्नर अश्विनी भिड़े ने एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा, ''18 से 45 साल तक उम्र के लोगों का टीकाकरण तभी शुरू किया जाएगा, जब पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध होगी। वैक्सीन की कमी की वजह से टीकाकरण के डेटा पर भी इसका असर साफ दिख रहा है। बुधवार से गुरुवार तक अन्य दिनों के मुकाबले 1।5 लाख कम लोगों का टीकाकरण किया गया।'' आप सभी को हम यह भी बता दें कि BMC टीकाकरण के नए चरण के लिए करीब 500 और सरकारी और प्राइवेट टीकाकरण केंद्रों को शुरू करेगा, इसका मतलब है कि 45+ के लिए टीकाकरण से कोई समझौता नहीं किया जाएगा और यह काम धीमा नहीं होगा।

'हमें सरकार के दावों पर भरोसा नहीं।।', बिहार में कोरोना के हालात पर पटना HC का बयान

MP: कुंभ से लौटे 61 श्रद्धालुओं में से 60 कोरोना संक्रमित

कभी मुकेश अम्बानी की रिलायंस के वाईस प्रेजिडेंट थे प्रकाश शाह, अब दीक्षा लेकर बने सन्यासी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -