सौंदर्य बढ़ाने में कॉस्मेटिक सर्जरी का योगदान

प्रतिस्पर्धा के इस युग में कॉस्मेटिक सर्जरी सिर्फ फैशन ही नहीं, बल्कि जरूरत बनती जा रही है. कॉस्मेटिक सर्जरी की मदद से नाक को मनचाहा आकार दिया जा सकता है. जैसे चपटे और मोटे नाक तीखे और पतले बनाये जा सकते हैं.

चेहरे में पड़ी झुर्रियाँ, सिकुड़न, ढीलापन, कील-मुंहासे या चेचक के दाग, सफेद दाग, चेहरे पर कटे या जले के दाग और आंखों के नीचे पड़े गहरे काले धब्बों को दूर करके चेहरे पर जवानी के दिनों की कांतियुक्त चमक एवं कसाव फिर से पैदा किए जा सकते हैं. गले पर पड़ी सिलवटों को दूर किया जा सकता है.

बाल प्रत्यारोपण से गंजापन दूर किया जा सकता है. स्तन को बड़ा या छोटा किया जा सकता है. चेहरे पेट या स्तन के ढीलेपन को भी हटाया जा सकता है. चेहरे, पेट या जांघ पर जमी फिजूल चबी को हटाया जा सकता है.

इस सर्जरी की सहायता से चेहरे से तिल के निशान को गायब किया जा सकता है. कटे-फटे होंठ और वजनदार बाली पहनने से फटे कान और बड़े छिद्र वाले कान भी ठीक किए जा सकते हैं. भौंह और पलकों में आए ढीलेपन को दूर किया जा सकता है. एक हद तक चेहरे के सांवलेपन को गोरा बनाया जा सकता है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -