EPF : इस तरीके से आसानी से सुधार सकते है अकाउंट की गल​तीयां

लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के बीच कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) अपने सदस्यों को कर्मचारी भविष्य निधि खातों (EPF Accounts) में की गई गलतियों को सुधारने की अनुमति देता है. कई बार कर्मचारी के ईपीएफ खाते में नाम, जन्मतिथि सहित दूसरी जानकारियों में गलती रह जाती है. कर्मचारी अपने इफीएफ रिकॉर्ड्स में ऑनलाइन माध्यम से इन गलतियों को सुधार सकते हैं. साल 2014 में यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) आने के बाद ईपीएफ से जुड़ी सभी प्रक्रियाएं आसान हो गई हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यूनिवर्सल अकाउंट नंबर 12 अंकों का एक यूनीक कोड होता है. यह ईपीएफओ सदस्य के पीएफ अकाउंट से लिंक होता है. यूएएन के माध्यम से सदस्य आसानी से अपने ईपीएफ अकाउंट को ऑनलाइन मैनेज कर सकते हैं. ईपीएफ अकाउंट में गलतियों को सुधारने के लिए सदस्य का यूएएन एक्टिव होना आवश्यक होता है. साथ ही सदस्य के पास आधार कार्ड होना भी आवश्यक है.

इसके अलावा पीएफ अकाउंट में जानकारियों को अपडेट करने की प्रक्रिया दो चरणों में होती है. एक चरण कर्मचारी के स्तर पर होता है और दूसरा चरण नियोक्ता के स्तर पर होता है. आइए जानते हैं कि किस प्रकार ईपीएफ अकाउंट की जानकारियों में बदलाव कर सकते हैं.

स्टेप 1. सबसे पहले सदस्य को ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट epfindia.gov.in पर जाना होगा और वहां लॉग-इन करना होगा.

स्टेप 2. अब मैनेज पर क्लिक कर 'modify basic details' पर क्लिक करना होगा.

स्टेप 3. अब अपना आधार नंबर डालना होगा.

स्टेप 4. अब आप अपना नाम, लिंग, जन्मतिथि आदि अपडेट कर सकते हैं. ध्यान रहे कि ये सभी जानकारियां आपके आधार कार्ड से मिलनी चाहिए.

स्टेप 5. अब रिक्वेस्ट सबमिट कर दें.

स्टेप 6. एक बार रिक्वेस्ट सबमिट होने के बाद इसे नियोक्ता द्वारा वेरीफाई किये जाने की आवश्यकता होगी. वेरिफिकेशन की रिक्वेस्ट ऑटोमेटिक ही नियोक्ता के पास चली जाएगी.

पेट्रोल के माध्यम से नुकसान कम रही सरकार, जानें कितने बढ़े दाम

अनिल अंबानी पर फिर गहराया संकट, 1200 करोड़ की वसूली के लिए NCLT पहुंचा SBI

भारत के विदेशी मुद्रा भंडार ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, पहली बार 500 अरब डॉलर के पार पहुंचा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -