शिया वक्फ बोर्ड : चेयरमेन वसीम रिजवी बोले, तब्लीगी जमात के लिए जेलों में बनें विशेष अस्पताल

सोमवार को कोरोना के कहर के बीच शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमेन वसीम रिजवी ने  फिर तब्लीगी जमात पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि तब्लीगी जमात के कोरोना पॉजिटिव लोगों के लिए हर जिले की जेलों में दो बैरक विशेष अस्पताल में तब्दील किए जाएं. क्योंकि जमात के लोग अस्पतालों में बदतमीजी कर रहे हैं. उनके कारण डॉक्टर, नर्स और अन्य कोरोना पॉजिटिव मरीजों को दिक्कतें हो रही हैं.

राज ठाकरे को इस बयान की वजह से झेलना पड़ सकता है मुकदमा

इस मामले को लेकर शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमेन वसीम रिजवी ने कहा कि जेलों में विशेष अस्पताल बनाकर कोरोना पॉजिटिव तब्लीगी जमात के लोगों का वहीं इलाज किया जाए. उन्होंने यह भी कहा है कि अगर ऐसे लोग ठीक हो जाएं तो उन पर कोरोना फैलाने की साजिश के तहत जेलों में रख कर मुकदमा चलाया जाए. यदि वे मर जाएं तो उनके शव लाकर उनकी राख परिवार वालों को सौंप दी जाए.

आखरी कोरोना से अब तक कैसे बचा हुआ है तुर्कमेनिस्तान ?

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमेन वसीम रिजवी ने भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि बड़े डॉक्टरों की सलाह लेकर कोरोना से मरने वालों का अंतिम संस्कार जलाकर ही किया जाए चाहे वे किसी भी धर्म के क्यों न हों. कब्रिस्तानों में दफनाने के लिए यदि धार्मिक रीति-रिवाज अपनाए जाएंगे तो इससे कोरोना फैलने का खतरा और भी बढ़ जाएगा. साथ ही कब्रिस्तान भी प्रदूषित होंगे.

लॉकडाउन का उल्लंघन कर सैर पर निकले स्वास्थ्य मंत्री, पीएम ने लिया एक्शन

चीन ने किया कोरोना पर नियंत्रण, पहली बार एक दिन में कोई मौत नहीं

'आराम' से हरा सकते हैं कोरोना को.., लालू यादव ने सुझाया उपाय

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -