बुरी खबर! दुनिया के 44 देशों में फैला कोरोना का भारतीय वेरिएंट, डब्ल्यूएचओ ने कहा- चिंताजनक...

May 12 2021 11:40 AM
बुरी खबर! दुनिया के 44 देशों में फैला कोरोना का भारतीय वेरिएंट, डब्ल्यूएचओ ने कहा- चिंताजनक...

देश भर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने बुधवार को कहा कि भारत के कोरोना विस्फोट के पीछे कोरोना का एक वेरिएंट है। ये वेरिएंट न केवल भारत में, बल्कि विश्वभर के दर्जनों देशों में पाया गया है। संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी ने कहा कि कोरोना का B.1.617 वैरिएंट पहली बार भारत में अक्टूबर में पाया गया था। GISAID ओपन-एक्सेस डेटाबेस में अपलोड किए गए सिक्वेंस में सामने आया है कि सभी 6 WHO क्षेत्रों में 44 देशों से यह वैरिएंट पाया गया है। यह वेरिएंट पांच देशों की रिपोर्ट में भी सामने आया है।

वही बुधवार को WHO ने बताया कि B.1.617 वेरिएंट मूल वायरस की तुलना में अधिक सरलता और तेजी से प्रसारित होता है तथा यही कारण है कि भारत में कोरोना संक्रमण के मामले और इससे होने वाली मौतों की संख्या रफ़्तार से बढ़ रही है। हालांकि WHO ने इस बात पर भी जोर दिया कि इस वैरिएंट के असर को टीकाकरण से कम किया जा सकता है।

1.3 बिलियन लोगों का देश भारत, संयुक्त राज्य अमेरिका (23 मिलियन) के पश्चात् विश्व का दूसरा सबसे अधिक संक्रमित देश है। B.1.1.7 वेरिएंट के अतिरिक्त कोरोना के कई वेरिएंट देश भर में फैल रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना के भारतीय वेरिएंट (B.1.617) को वैश्विक स्तर पर चिंताजनक वेरिएंट की श्रेणी में रखा है। WHO में कोरोना तकनीकी दल से संबंधित डॉ मारिया वैन केरखोव ने कहा कि सबसे पहले भारत में सामने आए वायरस के वेरिएंट B.1.617 को पहले डब्ल्यूएचओ द्वारा निगरानी स्वरूप की कैटेगरी में रखा गया था। उन्होंने कहा कि वायरस के इस वेरिएंट को लेकर WHO के तमाम दलों के बीच चर्चा जारी है।

तेलंगाना में आज से 10 दिनों तक सख्त लॉकडाउन, जानें कब-कब मिलेगी छूट?

देश भर में अब तक 17.52 करोड़ से अधिक दी गई कोरोना वैक्सीन की खुराक

कोरोना से गाँव कराह रहे, लेकिन मन की बात करने में लगे हुए PM - प्रियंका वाड्रा