कोरोना से लड़ाई में सीएम योगी ने अपनाया ये तरीका

कोरोना से लड़ाई में सीएम योगी ने अपनाया ये तरीका

उत्तरप्रदेश में योगी सरकार कोरोनावायरस को रोकने के लिए हर संभव उपाय करना चाहती है. इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हर मोर्चे पर डटे हैं. लखनऊ में गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग पर स्वास्थ्य के साथ ही नागरिक आपूर्ति विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान 21 दिन के लॉकडाउन पर जनता को सुविधा देने की खातिर निर्देश भी दिया.

आखिर क्यों अपने निवास को अस्पताल बनाना चाहते है कमल हासन

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने से रोकने को लेकर बेहद गंभीर मुख्यमंत्री की बैठकों में भी इसका असर दिखाई दे रहा है. यहां पूरी सतर्कता बरती जा रही है. बैठक चाहे लोक भवन में हो या फिर सीएम योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पर, हर जगह अब मुख्यमंत्री और अफसर एक-दूसरे से निश्चित दूरी पर बैठ रहे हैं और प्रदेश के हालातों की समीक्षा कर रहे हैं. 

नोबेल विजेता ने 'कोरोना' के खात्मे पर कही बड़ी बात, पहले ही कर दी रही महामारी की भविष्यवाणी

सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ अफसरों ने प्रदेश भर में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही लोगों तक आपात जरूरत पहुंचाने के लिए पूरी ताकत झोंक रखी है. खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार स्थिति पर नजर बनाए रखे हैं और पूरी कार्रवाई की मॉनीटिरिंग कर रहे हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपने सरकारी आवास पर प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा. बैठक के दौरान उनके तथा बैठक में शिरकत कर रहे अधिकारियों की कुर्सियों के बीच काफी दूरी देखी गई.

'कोरोना' से जंग के बीच प्रियंका का ट्वीट, मोदी सरकार के समक्ष रखी 5 मांगें

पहली बार पीएम मोदी के फैसले के साथ खड़ी दिखीं सोनिया गाँधी, कर दी बड़ी घोषणा

कोरोना के खौफ से इजरायल में भी बंद हुए भगवान के दरवाजे