श्रीलंका के नौसैनिकों में पाया गया कोरोना संक्रमण

कोलंबो: आज के समय में बीमारी हो या कोई आपदा दोनों ही मानव जीवन पर संकट बन ही जाती है. जिसमे से एक है कोरोना वायरस यह एक ऐसी बीमारी है, जिसका अभी तक कोई तोड़ नहीं मिल पाया है. वहीं इस वायरस की चपेट में आने से 200000 से अधिक मौते हो चुकी है, जबकि लाखों लोग इस वायरस से संक्रमित हुए है. ऐसे में वैज्ञानिकों के लिए यह कहना जरा मुश्किल सा है कि इस बीमारी से कब तक निजात मिल पाएगा.  

श्रीलंका के एक नौसैनिक ठिकाने पर बीते दो दिनों में 60 नौसैनिक कोरोना से पीड़ित पाए गए. इसके चलते करीब चार हजार नौसैनिकों और उनके परिवारों को क्वारंटाइन कर दिया गया है. भारत के इस पड़ोसी द्वीपीय देश में अब तक कोरोना के 420 से ज्यादा पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. सात की मौत भी चुकी.

सरकारी अखबार डेली न्यूज ने सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल शावेंद्र सिल्वा के हवाले से बताया कि वेलिसारा नेवल कैंप में शुक्रवार को 30 नौसैनिक कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे.इसके बाद करीब चार हजार नौसैनिकों और उनके परिवारों को परिसर में ही क्वारंटाइन करने का निर्णय लिया गया. श्रीलंका में कोरोना की रोकथाम के लिए लगाए गए राष्ट्रव्यापी कफ्यरू को सोमवार को हटा लिया जाएगा. वायरस से मुकाबले के लिए गत 20 मार्च से पूरे देश में कफ्यरू लगा है.

रूस के हाल हुए बेहाल, बढ़ता ही जा रहा संक्रमितों का आंकड़ा

ईरान में जारी है कोरोना का कहर, 24 घंटों में 76 मौतें

चीन समेत इस शहर में कोरोना ने ढाया कहर, लगातार बढ़ रहे नए मामले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -