कोरोना संकट के बीच अब 11 लाख परिवारों को मिलेगी यह सुविधा

धर्मशाला: एक तरफ बढ़ रहा कोरोना का कहर अब इतना बढ़ चुका है. कि हर तरफ केवल तवाही का मंज़र देखने को मिल रहा है. जंहा अब तक इस वायरस से मरने वालों कि संख्या 24000 से अधिक हो चुकी है. वहीं अभी भी लोगों में इस वायरस का खौफ फैला हुआ है. जंहा कोरोना वायरस के चलते प्रदेश सरकार अप्रैल में एक साथ सभी साढ़े 18 लाख उपभोक्ताओं को दो माह के राशन कोटे का राशन भेजने की तैयारी में जुट गई है. एनएफएसए के अलावा सभी अंत्योदय, बीपीएल और एपीएल परिवारों को भी दो माह का राशन एकसाथ मिलेगा. सरकार ने खाद्य एवं आपूर्ति निगम को गोदामों से पहली अप्रैल के बाद तुरंत राशन कोटे की सप्लाई भेजने की हिदायत दी है.

मिली जानकारी के अनुसार खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने सभी डिपोधारकों को दो माह के राशन कोटे की डिमांड एकसाथ भेजने के निर्देश दिए हैं. डिपो में उपभोक्ताओं की भीड़ न लगे, इसके लिए राशन कार्ड की कैटेगिरी के अनुसार राशन वितरण का रोस्टर तैयार किया जा रहा है. इसमें अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को सबसे पहले कोटा आवंटित किया जाएगा. उसके बाद एनएफएसए/बीपीएल और अंत में एपीएल राशन कार्ड धारक को राशन दिया जाएगा.

वहीं इस बात का पता चला है कि वर्तमान में सूबे में साढे़ 18 लाख राशन कार्ड धारक हैं, जिसमें एपीएल कैटेगिरी के साढे़ 11 लाख उपभोक्ता हैं. बीपीएल में पौने तीन लाख और अंत्योदय/एनएफएसए के लगभग चार लाख उपभोक्ता हैं. सूत्रों की माने तो  खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक कांगड़ा नरेंद्र धीमान ने कहा कि अप्रैल-मई माह का कोटा एक साथ वितरित किया जाएगा. इसके लिए खाद्य एवं आपूर्ति निगम को डिमांड भेजी जा रही है.

नशीला पदार्थ बनाने वाली फैक्ट्रियों को सरकार ने सौपा महामारी से जुड़ा ये काम

इस वजह से शिवराज ने दूसरे राज्यों के सीएम को लिखे पत्र

क्या शिवराज के मंत्रिमंडल में कांग्रेस के बागियों को मिलेगी जगह?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -