कोरोना संकट के चलते गांगुली गरीबों में बाटेंगे लाखों के चावल

कोरोना संकट के चलते गांगुली गरीबों में बाटेंगे लाखों के चावल

एक तरफ बढ़ रहा कोरोना का कहर अब इतना बढ़ चुका है. कि हर तरफ केवल तवाही का मंज़र देखने को मिल रहा है. वहीं  भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) अध्यक्ष सौरभ गांगुली कोविड-19 महामारी को रोकने के लिए किए गए 21 दिन के 'लॉकडाउन' से प्रभावित होने वाले लोगों के सहयोग के लिए आगे आए हैं. पूर्व भारतीय कप्तान वंचितों के लिए 50 लाख रुपये के चावल दान करेंगे. बंगाल क्रिकेट संघ (CAB) के बयान में घोषणा की गई है कि गांगुली लाल बाबा चावल के साथ मिलकर उन जरूरतमंद लोगों को चावल मुहैया कराएंगे, जिन्हें सुरक्षा कारणों से सरकारी स्कूलों में रखा गया है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक कंपनी के बयान के अनुसार, 'उम्मीद है कि गांगुली की इस पहल से राज्य के अन्य नागरिकों को भी हमारे राज्य के लोगों की सेवा करने के लिए इसी तरह के कदम उठाने की प्रेरणा मिलेगी.' जानकारी के लिए हुक बता दें कि इससे पहले, बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार को 25 लाख रुपये की मदद देने का फैसला किया. सीएबी के अध्यक्ष अभिषेक डालमिया ने अपनी तरफ से भी राज्य सरकार के रिलीफ फंड में मदद देने की बात कही है. सौरव गांगुली बीसीसीआई के मुखिया होने के साथ-साथ बंगाल क्रिकेट संघ के पूर्व अध्यक्ष भी हैं. उन्होंने अपनी ममता बेनर्जी वाली अपनी राज्य सरकार के सामने कोरोना वायरस से जुड़े लोगों के क्वारंटीन के लिए ईडन गार्डेंस स्टेडियम के इस्तेमाल का ऑफर भी रखा है. दादा

गांगुली ने अपने बयान में कहा है, 'यदि सरकार हमसे पूछती है तो हम क्वारंटीन फैसिलिटी के लिए स्टेडियम को उपलब्ध कराएंगे. कुछ भी सामान की जरूरत होगी हम उपलब्ध कराएंगे. हमें इसमें कोई परेशानी नहीं है.' साथ-साथ गांगुली ने यह भी कहा कि वह कोरोना वायरस से लड़ रहे देश की मदद के लिए बोर्ड के सचिव जय शाह से बात कर जल्द ही कोई फैसला लेंगे.

ओलंपिक रद्द होने के बाद अब  फिना विश्व तैराकी हो सकता है पोस्टपोन 

कोरोना के चलते खेल की कई गतिविधियां रद्द कर दी गई 

Hockey को लगा बड़ा झटका, कुछ दिनों के लिए टला मैच