उतरी भारत में कम हो रहा है कोरोना का कहर, जल्द मिलेगी लॉक डाउन में भी राहत

उतरी भारत में कम हो रहा है कोरोना का कहर, जल्द मिलेगी लॉक डाउन में भी राहत
Share:

इंडिया में कोविड संक्रमण की दूसरी लहर अब धीमी पड़ती नज़र आ रही है, लेकिन संकट अभी भी बरकरार बना हुआ है। कोविड संक्रमण देश में आफत बनकर टूटा है, जिससे अब तक तकरीबन 2. 23 लाख लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। इस दौरान राहत की बात यह है कि राष्ट्रीय राजधानी सहित कई बड़े शहरों और राज्यों में रोजाना आने वाले केसों में गिरावट देखने को मिली है। दिल्ली, बिहार, मध्यप्रदेश, झारखंड सहित कई राज्य लॉकडाउन में छूट देने पर मंथन किया जा रहा है।

संक्रमण के रोज आने वाले कुल केसों में से लगभग 60 फीसद केस सिर्फ 4 राज्यों से आ रहे हैं। जिनमे 20295 केसों के साथ महाराष्ट्र अभी भी सबसे आगे है। जिसके अतिरक्त कर्नाटक, केरल और तमिनाडु क्रमश: दूसरे, तीसरे और चौथे स्थान पर हैं। कर्नाटक और केरल में भी रोजाना 20 हजार से अधिक कोविड संक्रमण के केस आ रहे हैं।

- इन राज्यों से कोरोना की टूट रही चैन: जंहा इस बात का पता चला है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में संक्रमण के 956 नये केस सामने आये, जो कि बीते लगभग दो महीने में सबसे कम हैं। संक्रमण दर घटकर 1.19 फीसद हो चुकी है। मध्यप्रदेश में शनिवार को कोविड से संक्रमण के 1,640 नए केस देखने को मिले है। बिहार में धीरे-धीरे कोरोना वायरस संक्रमण के नए केसों में निरंतर गिरावट देखी जा रही है। यहां बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 1491 नए केस सामने आए तथा 48 और मरीजों की जान चली गई है। वहीं, झारखंड में गत 24 घंटे के बीच कोरोना वायरस के 687 नए केस आए।

- जानिए कहां बढ़ाई गई पाबंदियां: कोरोना के बढ़ते केसों के लेकर केरल, तमिलनाडु, महाराष्ट्र और गोवा ने कोरोना वायरस की स्थिति के मद्देनजर लॉकडाउन या अन्य पाबंदियां सोमवार से अगले एक सप्ताह से लेकर एक पखवाड़े तक बढ़ाने की घोषणा की है। पुडुचेरी सरकार ने केंद्र शासित प्रदेश में लॉकडाउन को 7 जून तक बढ़ाने का निर्णय लिया है। तमिलनाडु लॉकडाउन को पहले ही सात जून तक बढ़ा चुका है।

कमलनाथ के बयान की भाजपा ने की निंदा, कहा- 'कोविड के खिलाफ भारत की लड़ाई कमजोर कर रही कांग्रेस'

आम जनता की जेब को एक बार फिर प्रभावित, पेट्रोल और डीजल के दामों ने तोड़ी कमर

पहले खुद ही मस्जिद पर लिखा 'जय श्री राम' फिर पुलिस में कर दी शिकायत, दंगा भड़काने की थी साजिश

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -