कोरोना संक्रमण से बचाएंगे आपको ये घरेलू उपचार और आयुर्वेदिक उपाय, आयुष मंत्रालय ने बताए

पूरी दुनिया में कोहराम मचा रहा कोरोना वायरस का कहर लोगों को डरा भी रहा है। आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण के अलावा इस समय ओमीक्रोन वेरिएंट ने भी तबाही मचाई हुई है। इसके आने के बाद नए मामलों की संख्या आसमान छू रही है। वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय आयुष मंत्रालय (AYUSH Mantralaya) ने हाल ही में लोगों के बेहतर स्वास्थ्य और कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक उपायों के रूप में संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जी दरअसल मंत्रालय ने हाल ही में यह कहा कि लोगों को स्वस्थ रखने और संक्रमण से खुद को बचाने के लिए तमाम प्रयास किए जा रहे हैं। जी दरअसल कोरोना का नया रूप ओमीक्रोन (Omicron) बेहद खतरनाक माना जा रहा है और यह डेल्टा से भी ज्यादा घातक है।

इस बीच सबसे अधिक चिंता का विषय यह है कि इसके लक्षण सामान्य सर्दी-फ्लू से मिलते-जुलते हैं। हम सभी जानते हैं कि सर्दियों का मौसम है और इस मौसम में सर्दी के लक्षणों का ज्यादा खतरा होता है। ऐसे में अधिकतर लोग फ्लू और ओमीक्रोन के लक्षणों की पहचान नहीं कर पा रहे हैं, जिस वजह से वो आसानी से इसकी चपेट में आ रहे हैं। वैसे तो कोरोना वायरस का कोई स्थायी इलाज नहीं है और इसी के चलते फिलहाल टीकाकरण और इम्यून पावर को मजबूत बनाकर इससे मुकाबला किया जा सकता है। दूसरी तरफ तमाम हेल्थ एक्सपर्ट्स कोरोना से बचाव के लिए हेल्दी डाइट लेने और इम्यून पावर बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं। इस बीच घरेलू उपायों द्वारा इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करने और कोरोना से बचाव के लिए आयुष मंत्रालय ने भी कुछ उपाय साझ किये हैं। जो आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

कोरोना से बचाव के लिए घरेलू उपचार- कोरोना से बचाव के लिए दिन भर में कई बार गर्म पानी पिएं। इसी के साथ दिन में कम से कम 30 मिनट योग, प्राणायाम और ध्यान करें। इसके अलावा हल्दी, जीरा और धनिया जैसे मसाले जरूर खाएं और खाना पकाने में लहसुन का प्रयोग अवश्य करें।

इम्यून सिस्टम मजबूत करने के आयुर्वेदिक उपाय- 10 ग्राम च्यवनप्राश सुबह के समय लें। इसके अलावा डायबिटीज के रोगियों को शुगर फ्री च्यवनप्राश का सेवन करना चाहिए। आप तुलसी और दालचीनी से बनी हर्बल चाय/काढ़े का सेवन अवश्य करें। इसके अलावा दालचीनी, काली मिर्च, सोंठ और किशमिश का सेवन दिन में एक या दो बार करना चाहिए। इसी के साथ गुड़ और नींबू के रस का सेवन करें। इसके अलावा दिन में एक बार हल्दी गर्म दूध का सेवन करें।

कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक उपाय- तिल का तेल/नारियल का तेल या घी सुबह-शाम नथुने में लगाएं। आप ऑयल पुलिंग थेरेपी का इस्तेमाल करें। जी हाँ और इसके लिए एक चम्मच तिल या नारियल के तेल को 2 से 3 मिनट के लिए अपने मुंह में घुमाएं। ऐसा दिन में एक या दो बार किया जा सकता है। वहीं सूखी खांसी और गले में खराश से पीड़ित हैं तो ताजी पुदीने की पत्तियों या अजवाइन और अदरक के साथ भाप लें। इसी के साथ 2-3 कलियों का चूर्ण गुड़ या शहद में मिलाकर लें।

अगर मुंह में हो गए हैं छाले तो दूर करने के लिए करें यह घरेलू उपाय

बार-बार हो रही है खांसी की समस्या तो अपनाए यह घरेलू उपाय

सर्दियों में चेहरे की चमक बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करें संतरा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -