इस तरह पता करे कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट असली है या नकली

नई दिल्ली: भारत के कोरोना वैक्सीन प्रमाण पत्र को लेकर हंगामा मचा हुआ है. पहले ब्रिटेन ने कोविशील्ड वैक्सीन लगवा चुके भारतीय लोगों को वैक्सीनेटेड मानने से मना कर दिया था मगर भारत के दबाव के आगे अपना निर्णय पलट दिया तथा बाद में ये बताया कि उसे भारत के कोविशील्ड वैक्सीन से समस्या नहीं है बल्कि टीकरण प्रमाण पत्र से समस्या है. 

वही ब्रिटेन ने कोविशील्ड लगवा चुके भारतीयों को यात्रा की मंजूरी तो दे दी है मगर उनपर पुरानी शर्तें लागू रहेंगी. यानी कि पूर्ण रूप से वैक्सीनेटेड भारतीयों को ब्रिटेन जाने के पश्चात् 10 दिन तक होम आइसोलेशन में रहना होगा साथ ही उन्हें अपनी कोरोना की RT-PCR नकारामक रिपोर्ट भी बतानी है. साफ-साफ शब्दों में बोले तो ब्रिटेन को भारत की वैक्सीन प्रमाण पत्र की प्रमाणिकता पर संदेह है. ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कि यदि आपके पास भी टीके का प्रमाण पत्र है तो आप कैसे पता लगाएं कि प्रमाण पत्र असली है या नहीं. 

इस प्रकार करें प्रमाण पत्र की पहचान:- 
- सबसे पहले कोविन के आधिकारिक पोर्टल verify.cowin.gov.in/ पर जाएं.
- तत्पश्चात, आप वेरीफाई सर्टिफिकेट पर Verify a vaccination certificate के विकल्प पर क्लिक करें. 
- जैसे ही आप यहां क्लिक करेंगे तो आपके मोबाइल पर कैमरे को खोलने के लिए एक नोटिफिकेशन प्राप्त होगी. जिसकी मंजूरी आपको देनी होगी. 
- कैमरे को कागज या डिजिटल प्रमाण पत्र पर दिए QR कोड पर पॉइंट करें तथा स्कैन करें. 
- QR कोड को स्कैन करने पर एक ऑथेंटिक वैक्सीन सर्टिफिकेट 'Certificate Successfully Verified' दिखाई देगा. 
- यदि आपका प्रमाण पत्र नकली है तो 'Certificate Invalid' बता दिया जाएगा. 

इंदौर में बढ़ा कोरोना का खतरा, मिले 32 नए मरीज

पीएम योशिहिदे सुगा से मिले PM मोदी, कहा- भारत और जापान की मजबूत दोस्ती विश्व के लिए शुभ संकेत

खुशखबरी! अब बिना RT-PCR कराए भी घूम सकेंगे अंडमान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -