केदारनाथ जाने वाले लोगों को कराना होगा कोरोना टेस्ट

देहरादून: कोरोना वायरस के कारण देश का प्रत्येक क्षेत्र प्रभावित हुआ है. वही उत्तराखंड तथा जनपद में COVID-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए हेल्थ डिपार्टमेंट तथा प्रशासन ने केदारनाथ जाने वाले स्थानीय श्रद्धालुओं के लिए भी COVID-19 की जाँच अनिवार्य कर दिया है. रिपोर्ट नकारात्मक आने पर ही श्रद्धालुओं को केदारनाथ जाने की मंजूरी दी जाएगी. अभी तक यह नियम बाहरी प्रदेशों से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए ही लागू किया गया था.

वही पिछले दस दिनों से जनपद में COVID-19 के 17 नए केस सामने आ चुके हैं. ऐसे में अब प्रशासन तथा डिपार्टमेंट अपने स्तर पर कोई गलती नहीं करना चाहता. अब बाबा के दर्शनों को जाने वाले लोगों को अपनी COVID-19 जाँच कराना होगी. रिपोर्ट नकारात्मक आने पर ही वे धाम जा सकेंगे. वही चेकिंग के लिए कलेक्टर वंदना सिंह ने सोनप्रयाग में इंतजाम को और अधिक पुख्ता बनाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने बताया कि जिस प्रकार से COVID-19 के केस बढ़ रहे हैं, उसे ध्यान में रखते हुए स्थानीय स्तर पर COVID-19 जाँच करना अनिवार्य कर दिया गया है.

साथ ही चारधाम यात्रा के लिए एक जुलाई से अभी तक देवस्थानम बोर्ड ने 29 हजार से ज्यादा ई-पास जारी किए हैं. इसमें 15 हजार श्रद्धालुओं ने चारधाम के दर्शन किए हैं. चारधाम देवस्थानम बोर्ड के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर रविनाथ रमन ने अपने बयान में बताया कि गुरुवार को चारधाम के लिए 481 ई-पास जारी किए गए है. साथ ही नियमों का पालन करना भी अनिवार्य होगा. 

शुरूआती कारोबार में 200 अंक लुढ़का सेंसेक्स, निफ़्टी में भी आई गिरावट

स्वतंत्रता दिवस : 15 अगस्त को ही क्यों मिली आजादी ?

मनुज से मानवता तक और अतीत से आधुनिकता तक का समावेश है नई शिक्षा नीति- पीएम मोदी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -