सोमवती अमावस्या के दिन घाटों पर स्नान करने पर लगी रोक, हरिद्वार-यूपी बॉर्डर हुई सील

हरिद्वार: कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में कई कार्यो में रुकावट पैदा हो गई है. वही COVID-19 के बढ़ते कहर को देखते हुए उत्तराखंड में हरिद्वार शहर के बॉर्डर को सील कर दिया गया है. COVID-19 का कहर पूरे देश में निरंतर जारी है. कई प्रदेशो में संक्रमितों का आंकड़ा हर दिन बढ़ते जा रहा है. ऐसे में उत्तराखंड सरकार ने यूपी से सटे हरिद्वार शहर को 20 जुलाई तक के लिए सील करने का निर्णय लिया है.

आपको बता दे, कि प्रशासन ने ये निर्णय 19 और 20 जुलाई को होने वाले सोमवती अमावस्या मेले को ध्यान में रखते हुए किया है. वही उत्तराखंड में COVID-19 संक्रमितों के हर रोज नए केस सामने आ रहे हैं. ऐसे में लोगों की भीड़ ना जुटे इसके लिए दो दिन तक हरिद्वार के बॉर्डर को पूरी तरह से सील कर दिया गया है. तथा शहर के पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदई ने अपने बयान में कहा है, कि कोरोना के मामलों को देखते हुए यूपी से सटे हरिद्वार शहर की सीमा को आज से 20 जुलाई तक के लिए सील कर दिया गया है. 

तथा नदियों और घाटों पर स्नान करने की मंजूरी भी नहीं है. वही आपको बता दें कि सावन महीने में लाखों की संख्या में लोग कांवड़ और जल लेने के लिए हरिद्वार पहुचते हैं. परन्तु COVID-19 कि वजह से इस वर्ष कांवड़ मेले को निरस्त कर दिया है. वही शुक्रवार को पूरे उत्तराखंड में COVID-19 के 120 नए मामले सामने आए हैं. तत्पश्चात, सम्पूर्ण प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले 4100 के पार हो गए हैं. जबकि अब तक 3021 मरीज ठीक हो चुके हैं. तथा इस पर नियंत्रण करने के लिए सरकार द्वारा निरंतर कई प्रयास किये जा रहे है.

भाजपा नेता फडणवीस की मुरीद हुई शिवसेना, 'कोरोना' पर दिया था बयान

वार्ड की सुविधा पर शिकायत करने वाली महिला ने बोलते- बोलते तोड़ दिया दम

टोक्यो ओलंपिक 2021: पहले मैच में न्यूजीलैंड से भिड़ेगी भारतीय हॉकी टीम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -