देश में खतरनाक रफ़्तार से बढ़ रहे कोरोना के मामले, डेढ़ लाख के करीब पहुंची मरीजों की संख्या

नई दिल्ली: देश में सोमवार को निरंतर चौथे दिन एक दिन में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आए. लगभग 7,000 नए मामले सामने के बाद देश में संक्रमण के कुल मामले 1.4 लाख के पार पहुँच गये हैं. एक मई के बाद से मामलों की तादाद चार गुना हो गई जिस दिन प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए विशेष ट्रेनें शुरू की गयी थीं.

देश में कोरोना संक्रमण से मृतकों की तादाद 4,000 की संख्या को पार कर गयी जिसमें एक मई की तुलना में तीन गुने से ज्यादा का इजाफा हुआ है. इस अवधि में उपचार करा रहे रोगियों की संख्या भी तीन गुनी से ज्यादा हो गई है. उस समय से सही हो चुके कोरोना रोगियों की संख्या भी छह गुने से अधिक बढ़कर लगभग 60,000 पर पहुंच गई है.

कोरोना से बुरी तरह प्रभावित महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु और दिल्ली में लगातार संक्रमण के मामले दर्ज किए जा रहे हैं, वहीं बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा और झारखंड में भी रोगियों की तादाद दूसरे राज्यों से विशेष ट्रेनों से प्रवासियों की वापसी आरंभ होने से पहले दर्ज संख्या से दस गुना ज्यादा तक हो गयी है. नागालैंड में सोमवार को कोरोना के पहले तीन मामले दर्ज किए गए, जहां चेन्नई से विशेष ट्रेन से लौटे दो पुरुषों और एक महिला में कोरोना वायरस संक्रमण का पता चला है.

दो महीने बाद शुरू हुई उड़ानें, कई फ्लाइट्स हुई कैंसिल, परेशान हुए यात्री

क्या श्रम कानूनों में बदलाव ला पाएंगी उघोग जगत में गति ?

देश में नौकरी को लेकर इतने प्रतिशत लोग भटक रहे बेरोजगार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -