कोरोना : भोपाल में 3 और इंदौर में 16 मामले सामने आए

भोपाल: कोरोना का कहर हर तरफ मंडरा रहा है. जो कोरोना के खिलाफ जंग में जुटे हुए वे भी अब इससे अछूते नहीं रह पा रहे है. स्वास्थ्य महकमा अब संक्रमित होने लगा है. हेल्थ कॉर्पोरेशन के एमडी व आयुष्मान योजना के सीईओ जे विजय कुमार की दो रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव व सीनियर आईएएस अधिकारी पल्लवी जैन गोविल की जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. पल्लवी के साथ संपर्क में रहीं एडिशनल डायरेक्टर हेल्थ व पूर्व सीएमएचओ भोपाल डाॅ. वीणा सिन्हा भी संक्रमित मिली हैं.  

वहीं मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस का सैंपल जांच के लिए भेजा गया है. कोरोना कोर ग्रुप में काम कर रहे कुछ और अफसरों के सैंपल लिए गए हैं. एक के बाद एक संक्रमित व्यक्ति मिलने के बाद स्वास्थ्य महकमे और हेल्थ कॉर्पोरेशन के स्टॉफ को आधा कर दिया गया है. प्रमुख लोगों को ही ऑफिस आने के लिए कहा गया है. इधर, पल्लवी जैन के संक्रमित होने की खबर मिलने के बाद मुख्य सचिव बैस से लेकर कोरोना कोर ग्रुप से जुड़े तमाम बड़े अधिकारियों की मॉनिटरिंग करने की तैयारी में जुटे है.  

बता दें की भोपाल में आलू के बड़े व्यापारी अब्दुल गफ्फार की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. वहीं शनिवार को कोरोना संक्रमण से इंदौर में 80 साल की बुजुर्ग महिला और 42 साल के व्यक्ति ने दम तोड़ दिया. छिंदवाड़ा में 36 साल के युवक की मौत हो गई. इंदौर में कोरोना के 16 नए मरीज भी सामने आ गए हैं. इनमें टाटपट्‌टी बाखल क्षेत्र 10 लोग हैं. यह वही इलाका है जहां एक अप्रैल को सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग के अमले पर पथराव हुआ था. इंदौर में मरीजों की संख्या अब 128 पहुंच गई है.

आंध्रप्रदेश : अति आवश्यक मामलों की इस तरह सुनवाई करेगी निजली अदालते

कोरोना से निपटने के लिए सीएम योगी ने इस फंड को किया स्थापति

Lockdown ख़त्म होने के बाद भी अनिवार्य होगा मास्क पहनना, जानिए क्यों ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -