कांस्टेबल ने रेप पीड़िता से किया रेप, गर्भवती बनाकर दिया धोखा

रायपुर। पहले ही एक रेप का दर्द झेल चुकी नाबालिग को शादी के जाल में फंसा कर एक कांस्टेबल भी उसका शोषण करने लगा। मामला छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले का है जहा एक नाबालिग रेप पीड़िता के साथ कांस्टेबल ने शादी के नाम पर रेप किया है। पुलिस ने आरोपी कांस्टेबल को हिरासत में लेकर हवालात भेज दिया है। SP ने कड़ी कार्रवाई करते हुए उसे निलंबित भी कर दिया है। मामला ये है की पेंड्रा ब्लाक के मतियादांड़ गांव में इसी साल 26 जून की रात खेमचंद और रामगरीब ने नाबालिग ज्योति (परिवर्तित नाम) के साथ बलात्कार किया था।

घटना के दूसरे दिन पीड़िता ज्योति ने कोटमी पुलिस चौकी में इसकी शिकायत दर्ज़ करवाई। चौकी में महिला आरक्षक नहीं होने के कारण मेडिकल जांच के लिए पीड़िता के साथ कांस्टेबल मीठालाल को ही पेंड्रा हॉस्पिटल भेज दिया गया। इसके बाद मीठालाल ज्योति को विवेचना और कोर्ट में पेशी के लिए अपने साथ पेंड्रा लाने और ले जाने लगा। पीड़िता ने बताया के इसी बीच दोनों में बाते होने लगी और आरक्षक ने शादी की बात कही और अपने जाल में फंसा कर उसका शारीरक शोषण करने लगा। वह उसे अपने साथ पेंड्रा थाना परिसर के अपने सरकारी क्वार्टर में रखने लगा।

इस बीच ज्योति को गर्भ ठहर गया। इस बात का पता चलते ही आरोपी कांस्टेबल गर्भपात के लिए ज्योति पर दबाव बनाने लगा तो उसने मना कर दिया। आखिरकार 5 सितंबर को बहला-फुसलाकर उसने कविता को मतियादांड गांव ले जाकर छोड़ दिया। ज्योति जब उस कांस्टेबल मीठालाल को खोजती हुई उसके क्वार्टर पहुंची तो वहां ताला लगा हुआ मिला। उसने आस पास पूछताछ की तो मीठालाल के बिलासपुर में होने का पता चला।

इसके बाद ज्योति को अपने साथ हुए धोखे का एहसास हो गया और वह थाने के सामने धरने पर बैठ गई। यही से मम्मले का खुलासा हुआ और मामला टूल अपकड़ने लगा। मामले को बढ़ता देख आरोपी के खिलाफ कारवाही करने के आदेश दिए गए और अब उसे गिरफ्तार कर हवालात में भेज दिया है। उसके खिलाफ IPC की धारा 363, 367 और 376 के साथ पॉस्को एक्ट 2013 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया गया है।

Most Popular

- Sponsored Advert -