मुस्लिमों को साधने की कोशिश में कांग्रेस, गौ-हत्या में मामलों में बरी हुए मुसलामानों को देगी मुआवज़ा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की औपचारिक घोषणा भले ही न हुई हो, लेकिन सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. तीन दशक से सूबे में सत्ता का सूखा झेल रही कांग्रेस मुस्लिम मतों के सहारे सियासी आधार मजबूत करने की कोशिश में जुटी हुई है. ऐसे में कांग्रेस की निगाह योगी सरकार के दौरान गोकशी में फंसे बेकसूर मुस्लिमों पर है. कांग्रेस ने गोकशी मामले में बरी हुए लोगों को सत्ता में आने पर मुआवजा देने का ऐलान किया है.

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद बड़ी तादाद में गोकशी के मामले में लोगों की गिरफ्तारियां हुई हैं. हाल ही गोकशी को लेकर जिन लोगों पर केस दर्ज थे, उनमें से कई लोगों को उच्च न्यायालय ने राहत दे दी है. उच्च न्यायालय से मुकदमा खारिज होने के बाद ऐसे 48 से अधिक लोगों की सूची कांग्रेस अल्पसंख्यक कमेटी ने बनाई है. कांग्रेस इसे लेकर चुनावी मुद्दा बनाने की कोशिश में नज़र आ रही है. 

बता दें कि कांग्रेस ने हाल ही में लखनऊ में अल्पसंख्यक महासम्मेलन किया था, जिसमें मुसलमानों के जुड़े हुए 16 सूत्रीय संकल्प पत्र की घोषणा की थी. इनमें एक संकल्प यह भी शामिल किया गया कि उत्तर प्रदेश गो-वध निवारण अधिनियम के तहत जिन निर्दोष लोगों पर मुकदमे लादे गए थे, जिन्हें उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया है. ऐसे निर्दोष लोगों को कांग्रेस की यूपी में सरकार बनने पर मुआवजा देगी. 

बिडेन ने चीनी समकक्ष शी जिनपिंग की 'व्यापक रणनीतिक चर्चा' की

इकबाल सिंह ने संभाला राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष पद का कार्यभार, नकवी ने दी बधाई

यूपी चुनाव से पहले कांग्रेस करेगी प्रतिज्ञा यात्रा, प्रियंका गांधी का यूपी दौरा आज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -